कोपा अमेरिका : चिली ने इक्वाडोर को 2-1 से हराया, 74 साल बाद टूर्नामेंट में लगातार 7 मैचों से अजेय है टीम

0
16

साओ पाउलो. डिफेंडिंग चैम्पियन चिली ने ग्रुप सी के अपने दूसरे मुकाबले में इक्वाडोर को 2-1 से हरा दिया। इसी के साथ टीम एक बार फिर ग्रुप में पहले स्थान पर आ गई। चिली के लिए एलेक्सिस सांचेज ने एक बार फिर गोल किया। कोपा अमेरिका में सबसे ज्यादा गोल करने वाले खिलाड़ियों की लिस्ट में वह 10वें नंबर पर आ गए हैं। चिली ने टूर्नामेंट में अपनी लगातार जीतों का सिलसिला भी बरकरार रखा है। 1945 के बाद यह दूसरा मौका है जब टीम लगातार 7 मैचों से नहीं हारी है।

आक्रामक चिली ने आठवें मिनट में ही हासिल की बढ़त
चिली की टीम ने शुरुआत से ही आक्रामक रवैया दिखाते हुए इक्वाडोर को उसके हाफ तक सीमित रखा। आठवें मिनट में होसे फुएनजलीदा ने सफल कॉर्नर पास को गोल में बदलकर टीम को 1-0 की बढ़त दिला दी। हालांकि, 26वें मिनट में चिली के गोलकीपर गेब्रियल एरियास ने गोल एरिया से गेंद पर कब्जा करने की कोशिश में झेगसन मेंडेज को टक्कर मार दी। उनकी इस गलती के चलते रेफरी ने इक्वाडोर को पेनाल्टी का मौका दिया और एनर वेलेंसिया ने बिना कोई गलती किए पेनाल्टी को गोल में बदला।

हाफ टाइम के बाद आया दूसरा गोल

हाफ टाइम के बाद चिली ने गेंद पर कब्जा जारी रखा और 51वें मिनट में चार्ल्स अरांगिज के शानदार क्रॉस पर सांचेज ने बिना कोई गलती किए गोल कर दिया। चिली ने ज्यादा से ज्यादा बॉल को अपने कब्जे में ही रखा और आखिर तक 2-1 की बढ़त को बनाए रखा। इसी के साथ टीम अपने पिछले सात मैचों से अजेय है। इनमें 6 मैच में उसे जीत मिली और 1 मैच ड्रॉ रहा। 1945 में भी टीम सात मैचों में 5 जीत और 2 ड्रॉ के साथ सात मैचों में अजेय रही थी।

ग्रुप सी में चिली का अगला मुकाबला उरुग्वे से
चिली इस जीत के साथ ग्रुप सी में टॉप पर पहुंच गया है। उसका अगला मुकाबला अब दूसरे नंबर पर स्थित उरुग्वे के साथ होगा, जिसने इक्वाडोर को 4-0 से हराया था। सांचेज की टीम के लिए यह मैच बिल्कुल आसान नहीं होगा, क्योंकि एडिंसन कवानी और लुईस सुआरेज की जोड़ी पहले ही फॉर्म में है। हालांकि, चिली के पास दो लगातार मैचों में जीत का आत्मविश्वास है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here