कोपा अमेरिका : डिफेंडिंग चैम्पियन चिली को उरुग्वे ने 1-0 से हराया, पिछले तीन टूर्नामेंट में उसकी दूसरी हार

0
22

कोपा अमेरिका कप के ग्रुप सी मुकाबले में सोमवार को उरुग्वे ने डिफेंडिंग चैम्पियन चिली को 1-0 से हरा दिया। इसी के साथ उरुग्वे ने पॉइंट्स के आधार पर ग्रुप में टॉप किया। उसका अगला मुकाबला क्वार्टरफाइनल में पेरू से होगा। पिछले तीन कोपा अमेरिका में यह चिली की सिर्फ दूसरी हार है। इससे पहले अर्जेंटीना ने उसे 2016 में ग्रुप स्टेज में हराया था। हालांकि, उसी साल अर्जेंटीना को फाइनल में हराकर चिली चैम्पियन बना था।

उरुग्वे कोपा अमेरिका में चिली के खिलाफ हुए 30 मुकाबलों में से 19 जीत चुका है। यह इस चैम्पियनशिप में उसकी किसी भी देश के खिलाफ सबसे ज्यादा जीत का रिकॉर्ड है। ग्रुप स्टेज में चिली का अगला मुकाबला ग्रुप बी में शीर्ष पर रही कोलंबिया से होगा, जिसने अपने सारे मैच जीतने के साथ ही इस साल टूर्नामेंट में एक भी गोल नहीं खाया है।

चार साल पहले चिली ने उरुग्वे को हराया था

संयोग की बात यह है कि चार साल पहले भी 24 जून को ही चिली और उरुग्वे की भिड़ंत हुई थी। तब चिली के डिफेंडर गोंजालो जारा की एक हरकत से कवानी इतना गुस्सा हो गए कि उन्होंने जारा को धक्का दे दिया। इसके बाद कवानी को फील्ड के बाहर भेज दिया गया। बाद में चिली ने एक गोल के जरिए उस मैच में जीत हासिल की थी।

उरुग्वे के कोच ने भी बनाया रिकॉर्ड

उरुग्वे के कोच ऑस्कर तबरेज ने इस मैच में राष्ट्रीय टीम के मैनेजर और हेड कोच के तौर पर 200 गेम पूरे किए। वे इस मुकाम को हासिल पहुंचने वाले दुनिया के पहले मैनेजर हैं। ऑस्कर ने मैच के बाद कहा कि यह बाकी दिनों की तरह ही बोरियत से भरा हो सकता था। गेंद पर कब्जे के लिए आखिर तक टीमें लड़ती रहीं। लेकिन कवानी कभी नहीं रुकता। आज उसने अलग तरह का खेल दिखाया।

जापान-इक्वाडोर के ड्रॉ से पराग्वे क्वार्टरफाइनल में
दूसरी ओर, ग्रुप सी के दूसरे मुकाबले में जापान ने इक्वाडोर के साथ 1-1 से ड्रॉ खेला। इसकी बदौलत ग्रुप बी में पराग्वे क्वार्टरफाइनल में पहुंच गया। दरअसल, फॉर्मेट के मुताबिक तीनों ग्रुप्स में तीसरे नंबर पर स्थित दो टीमों के पास प्रदर्शन के आधार पर क्वार्टरफाइनल में पहुंचने का मौका होता है। जापान के ड्रॉ की बदौलत पराग्वे चार पॉइंट्स होने के बावजूद कम गोल खाने की वजह से अगले राउंड में पहुंच गया। इस मैच में हार के बाद इक्वाडोर पिछले 26 सालों में खेले गए 11 कोपा अमेरिका में से आठ में ग्रुप स्टेज से आगे नहीं जा पाया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here