गुजरात / मुख्यमंत्री ने कहा- वायु चक्रवात गुजर गया, केंद्रीय मंत्रालय के अफसर बोले- 17 जून को लौट सकता है

0
89

  • CN24NEWS-15/06/2019
  • केंद्रीय पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय ने कहा- चक्रवात कच्छ या सौराष्ट्र तटों पर लौट सकता है, लेकिन असर कम होगा
  • चक्रवात गुरुवार को वेरावल तट से दूसरी दिशा में मुड़ गया था जिससे खतरा टल गया था

गांधीनगर (गुजरात). अरब सागर में उठा चक्रवात वायु 17 और 18 जून को लौटकर गुजरात के कच्छ और सौराष्ट्र के तटों से टकरा सकता है। यह जानकारी शुक्रवार को केंद्रीय पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय ने दी। मंत्रालय के सचिव एम राजीवन ने कहा कि इस बार इसकी तीव्रता कम हो सकती है। उधर, मौसम विभाग का कहना है कि अभी इस बारे में कुछ कहना जल्दबाजी होगी। मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने भी कहा कि अब तूफान का कोई खतरा नहीं है। वह जा चुका है।

इससे पहले मौसम विभाग ने चक्रवात वायु को गुरुवार दोपहर तक वेरावल तट से टकराने की संभावना जताई थी, लेकिन यह 100 किमी दूर से ही दूसरी दिशा में मुड़ गया था और खतरा टल गया था। तूफान के कारण वेरावल, गिर, सोमनाथ, दीव, जूनागढ़ और पोरबंदर में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश हुई थी।

गुजरात सरकार ने कहा- तूफान पर नजर रखी जा रही 

  • अहमदाबाद में मौसम विज्ञान केंद्र की अतिरिक्त निदेशक मनोरमा मोहंती ने कहा कि अभी यह भविष्यवाणी करना जल्दबाजी होगी कि चक्रवात कच्छ और सौराष्ट्र में फिर से आ जाएगा और इसका असर कम होगा। गुजरात सरकार ने कहा है कि तूफान पर नजर रखी जा रही है।
  • राज्य के मुख्य सचिव जेएन सिंह ने बताया कि हम अलर्ट मोड पर हैं। अगर 17 और 18 जून को वायु लौटता है तो हम सामना करने के लिए तैयार हैं। एनडीआरएफ की टीमें तैनात हैं। हमने उन्हें वापस नहीं बुलाया है।
  • मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने शुक्रवार को ऐलान किया कि तूफान के कारण 10 तटीय जिलों के निचले इलाकों से स्थानांतरित किए गए करीब पौने तीन लाख लोगों को नियम के मुताबिक, लगभग साढ़े पांच करोड़ रुपए की नकद सहायता दी जाएगी। राज्य सरकार के कैंपों में स्थानांतरित किए गए प्रत्येक वयस्क को 60 रुपए और बच्चे को 45 रुपए की दर से नकद सहायता दी जाएगी।

तलाला में सबसे ज्यादा 160 मिमी बारिश हुई

चक्रवाती तूफान वायु के प्रभाव से पिछले 24 घंटे में राज्य के कुल 33 में से 26 जिलों की 114 तहसीलों में बारिश हुई। गिर सोमनाथ जिले के तलाला क्षेत्र में सर्वाधिक आधे फीट यानी छह इंच से भी अधिक पानी बरसा। कम से कम नौ तहसीलों में दो इंच से 51 मिलीमीटर और 30 तहसीलों में एक इंच से अधिक बारिश हुई।

शहर बारिश
तलाला160 मिमी
सूत्रापाड़ा145 मिमी
जूनागढ़ के वंथली86 मिमी
मेंदरडा72 मिमी
मालिया69 मिमी
वेरावल60 मिमी
जूनागढ़ शहर57 मिमी
भावनगर57 मिमी

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here