Tuesday, September 28, 2021
Homeदिल्लीदिल्ली / वसंत विहार में ट्रिपल मर्डर; बुजुर्ग दंपति के साथ उनकी नर्सिंग...

दिल्ली / वसंत विहार में ट्रिपल मर्डर; बुजुर्ग दंपति के साथ उनकी नर्सिंग असिस्टेंट की गला रेतकर हत्या

वसंत विहार के वसंत अपार्टमेंट स्थित एक फ्लैट में बुजुर्ग दंपति और उनकी नर्सिंग असिस्टेंट की हत्या कर दी गई। तीनों का चाकू से गला रेता गया। रविवार सुबह जब घर में काम करने के लिए मेड आई तब वारदात का खुलासा हुआ। पड़ोसी ने मामले की सूचना पुलिस को दी। बुजुर्ग दंपति के शव बेड और युवती ड्राइंग रूम में फर्श पर पड़ी मिली। घर के अंदर सामान इधर-उधर बिखरा मिला है लेकिन पुलिस लूट की बात से इंकार कर रही है। दंपति की पहचान विष्णु स्वरूप माथुर (80), शशि माथुर (75) व खुशबू नौटियाल (23) के तौर पर हुई। बुजुर्ग दंपति सरकारी सेवा से रिटायर्ड थे। हत्यारे की तलाश में घर के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज खंगाली जा रही है।

सुबह जब घर पर नौकरानी पहुंची तो मिलीं 3 लाशें

साउथ वेस्ट डिस्ट्रिक डीसीपी देवेन्द्र आर्य ने बताया वसंत अपार्टमेंट डीडीए फ्लैट नंबर 234 में फर्स्ट फ्लोर पर बुजुर्ग विष्णु स्वरूप माथुर पत्नी के साथ रहते थे। वह साल 1995 में सीजीएचएस में फार्मासिस्ट और उनकी पत्नी शशि माथुर एनडीएमसी में लेडी हेल्थ विजिटर के पद से रिटायर हुई थीं। उनकी इकलौती बेटी अमिता परिवार के साथ ग्रेटर कैलाश एरिया में रहती हंै। दंपति के बेटे अजय की सड़क हादसे में करीब दो दशक पूर्व मौत हो चुकी है।

फ्लैट में ही रहती थी नर्सिंग असिस्टेंट

बुजुर्ग दंपति के घर खुशबू बीते साल अगस्त से नर्सिंग असिस्टेंट के तौर पर काम कर रही थी। वह इसी घर में रहती थी। बबली नाम की मेड घर पर सुबह-शाम काम के लिए आती थी। रविवार सुबह बबली काम के लिए घर पर पहुंची तो उसे बाहर से दरवाजे की कुंडी लगी मिली। उसने सोचा कि शायद खुशबू कोई सामान लेने के लिए घर से बाहर गई है और उसने कुंडी लगा दी होगी। वह दरवाजा खोल घर में दाखिल हुई तो वहां का नजारा देख दंग रह गई। ड्राइंग रूम में खुशबू खून से लथपथ फर्श पर पड़ी थी। वहीं, बुजुर्ग दंपति एक बेड पर मृत पड़े मिले। उन पर भी चाकू से वार किया गया था। बबली ने पड़ोसी शैलेन्द्र को मामले की सूचना दी।

हत्यारे ने पहले गला घोंटा फिर चाकू मारा

तीन हत्याओं की खबर से आसपास के लोग भी काफी डरे हुए हैं। पड़ोसियों ने सबसे पहले बुजुर्ग की बेटी को इस मामले की जानकारी दी। सुबह 8 बजकर 50 मिनट पर शैलेन्द्र ने ही पुलिस को कॉल कर सूचना दी।  कहा जा रहा है बुजुर्ग दंपति के मर्डर से पहले उनका गला भी घोंटा गया था। लेकिन इस बात की पुष्टि पोस्टमार्टम की रिपोर्ट से हो सकेगी। इस तिहरे हत्याकांड पर डीसीपी देवेन्द्र आर्य ने कहा ऐसा लग रहा है इन तीनों का कत्ल देर रात किया गया। वारदात के पीछे लूट की संभावना कम है, बावजूद इसके जांच सभी बिंदुओं पर हो रही है।

लापरवाही : अपार्टमेंट में गार्ड नहीं, सीनियर सिटीजन सेल में रजिस्टर्ड नहीं थे बुजुर्ग
अपार्टमेंट में डीडीए के 288 फ्लैट्स हैं। सुरक्षा के लिहाज से बहुत सारे लोगों ने घर के बाहर सीसीटीवी कैमरे लगवा रखे हैं, लेकिन रात में गार्ड की व्यवस्था नहीं है। इसके पीछे पैसे की बचत की बात सामने आई है। पुलिस ने कई घरों के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज चैक करने के लिए डीवीआर सिस्टम कब्जे में लिया है।

बुजुर्ग दंपति के घर पहुंचने को कई रास्ते हैं। जिस कारण कातिल के निश्चित तौर पर किसी न किसी सीसीटीवी कैमरे में कैद होने की उम्मीद है। अपार्टमेंट में 14-15 कैमरे अलग-अलग दिशा में लगे हैं। पुलिस की जांच में यह बात सामने आई है कि वारदात के शिकार बुजुर्ग माथुर दंपति दिल्ली पुलिस के सीनियर सिटीजन सेल के रजिस्टर्ड सदस्य नहीं थे। वह यहां 20 साल से रह रहे थे, लेकिन उन्होंने पुलिस की बुजुर्ग सेल की सदस्यता नहीं ले रखी थी।

सीएम ने पूछा किसका दरवाजा खटखटाएं दिल्लीवाले

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा- दिल्ली में गंभीर अपराधों में खतरनाक तेजी देखी जा रही है। वसंत विहार में एक बुजुर्ग दंपति और उनकी घरेलू सहायिका की हत्या कर दी गई। शहर में 24 घंटों में अलग-अलग जगह 9 हत्याएं हो गईं। दिल्लीवालों को अपनी सुरक्षा के लिए किसका दरवाजा खटखटाना चाहिए?

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments