दुर्ग में बनेगा प्रदेश का चौथा एस्ट्रोटर्फ हॉकी स्टेडियम, केंद्र ने टोकन मनी में दिए 7 करोड़

0
41
  • छग में मॉडल होगा दुर्ग : हॉकी में दुर्ग बनाएगा नई पहचान, मिलेगा प्लेटफॉर्म
  • इंटरनेशनल स्टैंडर्ड का होगा एस्ट्रोटर्फ ग्राउंड, दुर्ग के लिए राज्य सरकार ने दी सहमति

शहनवाज आलम। भिलाई. प्रदेश का चौथा एस्ट्रोटर्फ हॉकी स्टेडियम दुर्ग में बनेगा। यह हॉकी स्टेडियम अंतर्राष्ट्रीय स्तर का होगा। जिसमें नेशनल गेम्स से लेकर अंतर्राष्ट्रीय स्तर के टूर्नामेंट होंगे। इसके लिए सरकारी स्तर की कागजी कार्रवाई शुरू हो गई है। प्रदेश सरकार ने भी दुर्ग के लिए सैद्धांतिक सहमति प्रदान कर दी है। इससे पहले राजनांदगांव, रायपुर और बिलासपुर में एस्ट्रोटर्फ हॉकी स्टेडियम है।

दुर्ग में स्टेडियम के लिए चंदखुरी का प्राथमिकता

  1. दुर्ग जिले में एस्ट्रोटर्फ हॉकी स्टेडियम में के लिए दुर्ग में ही तीन जगह प्रस्तावित किया गया है। इसमें अंडा के पास स्थित चंदखुरी को प्राथमिकता के साथ पहले नंबर पर रखा है। इसके अलावा धनोरा और दुर्ग शहर में भी जगह प्रस्तावित कर खेल एवं युवा कल्याण विभाग को सौंप दिया गया है। एस्ट्रोटर्फ हॉकी स्टेडियम प्रदेश का चौथा स्टेडियम होगा। इसके लिए केंद्र सरकार ने टोकन मनी के रूप में 7 करोड़ रुपए की मंजूरी भी दे दी है।
  2. कैंपस में स्विमिंग, रेस्टोरेंट और हॉस्टल समेत अन्य की सुविधा

    शासन की स्वीकृति मिलने के बाद दुर्ग में एस्ट्रोटर्फ की नींव रखी जाएगी। इस एस्ट्रोटर्फ स्टेडियम में अंतर्राष्ट्रीय हॉकी स्टेडियम में मिलने वाली सभी सुविधा मिलेगी। जिसमें बैठने के लिए केबिन, रेस्टोरेंट, स्वीमिंग, आईसबाथ, मीडिया केबिन आदि सभी सुविधा जो एक अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम में होती हैं, वो सभी दुर्ग के स्टेडियम में होगी।

  3. 2021 में नेशनल गेम्स, नए स्टेडियम से मिलेगी बड़ी मदद

    छत्तीसगढ़ में 2021 में नेशनल गेम्स होने हैं। ऐसे दुर्ग में एस्ट्रोटर्फ हॉकी स्टेडियम का बनाना बेहतर होगा। नेशनल गेम्स में तीन से चार ग्राउंड लगते है। दुर्ग में बनने से बीच की दूरी कम हो जाएगी। दुर्ग से रायपुर की दूरी 38 किलो मीटर है और राजनांदगांव से 27 किलो मीटर। अगर दुर्ग में यह एस्ट्रोटर्फ बनता है तो नेशनल गेम्स की मेजबानी भी दुर्ग को मिलेगी।

  4. चंदखुरी ग्राम पंचायत से मिली एनओसी

    दुर्ग में एस्ट्रोटर्फ चार जगह की जमीन बताई गई है। चंदखुरी सरपंच ने तो एनओसी तक दे दिया है। चंदखुरी में 5.7 एकड़ की जमीन है। नक्शा और खसरा विभाग को सौंप दिया गया है। धनोरा में 24 एकड़, कोलिहापुरी में 4.5 एकड़, नेशनल पब्लिक स्कूल दुर्ग में जमीन देखी गई है।

  5. जानिए दुर्ग में हॉकी की स्थिति क्या… 
    • 350 से अधिक खिलाड़ी रोजाना करते हैं अभ्यास।
    • 25 खिलाड़ी औसतन हर साल नेशनल खेलते हैं।
    • 10 से अधिक खिलाड़ी खेल चुके है इंडिया टीम।
    • 15 से अधिक खिलाड़ी खेलो इंडिया में सिलेक्ट।

    हर साल 25 से अधिक नेशनल खिलाड़ी

    जिले के हॉकी खिलाड़ी लगातार राष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बना रहे हैं। हर साल 25 से 30 खिलाड़ी नेशनल टीम में शामिल हो रहे हैं। सबा अंजुम, बलविंदर कौर, हेमलता ने दुर्ग का नाम रोशन किया। लीना राजेश्वर, अंजली भी राष्ट्रीय स्तर पर अच्छा परफार्म कर रही है।

  6. खेलो इंडिया स्कीम के तहत बनेंगे स्टेडियम

    केंद्र सरकार की योजना खेलो इंडिया के तहत छत्तीसगढ़ को 6 खेलों में स्टेडियम और ग्राउंड के लिए प्रस्ताव मांगा था। जिसमें हॉकी के लिए दुर्ग जिले के खेल प्रेमियों और जनप्रतिनिधियों ने प्रस्ताव तैयार कर खेल विभाग को सौंपा है। इसका प्रस्ताव सीएम, कलेक्टर और संबंधित मंत्रियों को भी दिए गए है। दुर्ग में हॉकी एस्ट्रोटर्फ की मांग काफी लंबे समय से की जा रही थी।

  7. रायगढ़ व जगदलपुर ने भी की थी दावेदारी

    छत्तीसगढ़ को खेलो इंडिया स्कीम के तहत हॉकी एस्टोटर्फ, वालीबॉल इंडोर, बैडमिंटन इंडोर कोर्ट, फुटबॉल, एथलेटिक्स और स्विमिंग के लिए फंड जारी किया था। इसके लिए प्रस्ताव खेल विभाग के माध्यम से मंगाए गए। जिसमें एस्ट्रोटर्फ के लिए दुर्ग के अलावा जगदलपुर और रायगढ़ ने भी प्रस्ताव दिया था। प्रदर्शन को देखते हुए दुर्ग में एस्ट्रोटर्फ पर सहमति बन गई है।

  8. जल्द से जल्द कराएंगे इसका एक्जीक्यूशन

    दुर्ग ने अंतरराष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी दिए। जिन्होंने देश को गोल्ड मेडल दिलाया। इस संबंध में मैंने अफसरों को निर्देशित किया है। हम जल्द से जल्द इसका एक्जीक्यूशन कराएंगे। ताकि जिले के खेल प्रतिभा को बढ़िया प्लेटफॉर्म मिल सके। खेल प्रेमियों की लंबे समय से एस्ट्रोटर्फ स्टेडियम की मांग थी।

    ताम्रध्वज साहू, गृहमंत्री, छग शासन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here