Friday, September 17, 2021
Homeहरियाणादो बहनों की गैंगरेप के बाद हत्या

दो बहनों की गैंगरेप के बाद हत्या

कुंडली थाना क्षेत्र के एक गांव में दो बहनों की गैंगरेप के बाद हत्या करने के मामले में चारों आरोपी पांच दिन के रिमांड पर हैं। जैसे-जैसे पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है, उससे 5 अगस्त की काली रात की एक-एक सच्चाई सामने आ रही है। दो सगी बहनों के साथ दरिंदगी करने की साजिश रचने वाला मुख्य दरिंदा अरुण है। अरुण को दोनों बहनों की हंसी खटक रही थी। वह दोनों बहनों की हर गतिविधियों पर अपनी गंदी नजर रखता था।उसने ही 5 अगस्त की शाम को गैंगरेप के लिए अपने साथी फूलचंद, दुखन व रामसुहाग को तैयार किया था। शाम 8 बजे के आसपास चारों ने कमरे के बाहर बरामदे में बैठकर रेप करने की साजिश रची थी। जिस समय उनके दिमाग में यह गंदी उपज पैदा हो रही थी, उस दौरान दोनों बहनें अपनी मां व भाइयों के साथ हंसी मजाक कर रही थी। बहनों की हंसी दरिंदे अरुण की आंखों में खटक गई। दोनों बहने अपनी मां के साथ कमरे में सो गई और उसके तीनों भाई कमरे की छत पर सोने के लिए चले गए। रात 1 बजे तक चारों दरिंदे बरामदे में घूमते रहे, लेकिन अंदर जाने का मौका नहीं मिला।

कमरे की अंदर से कुंडी बंद कर बेटियों के साथ सोती थी मां, लघुशंका के लिए खोला था कमरा, इसी मौके के इंतजार में थे चारों दरिंदे

जिस मां के साथ जवान बेटियां रहती हो, वह काफी सजग रहती है। दोनों बहनों की मां भी अपनी बेटियों को लेकर पूरी तरह से जागरूक थी। वह हमेशा कमरे की अंदर से कुंडी बंद कर सोती थी। रात 1 बजे वह लघुशंका के लिए उठी थी। दिन से ही उसकी तबीयत कुछ खराब चल रही थी। दिन के समय भी पीड़ित लड़कियों की मां को उल्टी व दस्त थे। इसी वजह से जब वह रात 1 बजे लघुशंका के लिए कमरे से बाहर निकली तो पहले से ही घात लगाए बैठे चारों दरिंदे उसके कमरे में घुस गए। जब वह लघुशंका के बाद कमरे के अंदर आई तो दो युवकों ने उसे पकड़ लिया और पेट पर चाकू लगा दिया।

अरुण ने कहा था- आज रात को मौका मिलेगा तो मसल देंगे, मां नहीं मानती तो उसे भी मार देते

गैंगरेप व हत्या की साजिश रचने वाला मुख्य आरोपी दरभंगा का अरुण है। अरूण कई दिन से दोनों बहनों को अपनी हवस का शिकार बनाने की प्लानिंग कर रहा था। वह अक्सर दोनों बहनों पर अपनी गंदी नजर रखता था। कमरे से बाहर जब दोनों बहने बैठती तो अरूण उन पर ही अपनी नजर रखता। अरुण ने ही अपने दोस्तों से कहा था कि आज रात को मौका मिलेगा तो सभी मिलकर मसल देंगे और जमकर मजा चखेंगे। आरोपियों ने कहा कि यदि उनकी मां सांप काटने की बात नहीं मानती तो वे उसे भी मार देते। उन्होंने सोच लिया था कि किसी भी हालत में इस राज को उजागर नही होने देना है।

पुलिस ने अरुण के कमरे से खून से सने कपड़े बरामद किए : दो बहनों के साथ हुए गैंगरेप और हत्या के मामले में पुलिस सबूत जुटा रही है। गुरुवार को कुंडली थाना पुलिस ने हत्या आरोपी अरुण के कमरे से दोनों बहनों के खून से सने कपड़े बरामद किए है। पुलिस जांच में और भी अहम सबूत मिल सकते है।

इस तरह हुई थी 5 अगस्त को बहनों के साथ दरिंदगी

बिहार से कुंडली में परिवार के साथ मजदूरी करने आई एक महिला ने बताया कि उसके पति की मौत हो चुकी है। वह अपने सात बच्चों के साथ किराए के कमरे में रहती है। उसके पास चार लड़के व तीन लड़की हैं। एक लड़की की शादी कर रखी है। पांच अगस्त की रात वह अपनी 13 व 15 साल की दो बेटियों के साथ कमरे में सो रही थी।

इस बीच उनके साथ वाले कमरे में रहने वाले अरुण कुमार, फूलचंद, दुखन व रामसुहाग उनके कमरे में घुस गए। दो युवकों ने उनकी बेटियों का मुंह दबा लिया। उसे चाकू दिखाकर जान से मारने की धमकी दी। इसके बाद चारों युवकों ने बारी-बारी से उसकी बेटियों के साथ दुष्कर्म किया। जब उसकी बेटियां चिल्लाने लगी तो उनके मुंह में कीटनाशक।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments