Sunday, September 26, 2021
Homeराज्यमंत्री पंवार का बयान : सीएम मनोहर लाल ने फिजिकल रख रखा है,...

मंत्री पंवार का बयान : सीएम मनोहर लाल ने फिजिकल रख रखा है, जो उसे पास करता है, उसे ही पार्टी ज्वाइन करवाते हैं

रोहतक। विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा में इनेलो और जजपा छोड़कर आ रहे नेताओं पर बयान देते हुए परिवहन मंत्री कृष्ण लाल पंवार ने कहा कि ऐसे किसी को भी ज्वाइन नहीं करवाया जा रहा। जैसे पुलिस में फिजिकल होता है, ऐसे सीएम मनोहर लाल खट्टर ने फिजिकल रखा हुआ है, जो उस फिजिकल को पास करता है, उसे ही भाजपा ज्वाइन करवाई जा रही है। जो भविष्य में आएगा उसे फिजिकल पास करना पड़ेगा, इस पॉलिटिकल फिजिकल में उन नेता के गुण, आचार, विचार देखकर ही पार्टी में लाया जाता है।

75 पार का टारगेट होगा पूरा

  1. पंवार ने कहा कि प्रजातंत्र में जिसे भी पार्टी की नीतियां अच्छी लगती हैं, वे आते हैं। इसी वजह से कुछ लोग एमएलए पद से भी इस्तीफा देकर पार्टी में आ रहे हैं। उन्होंने कटाक्ष भरे लहजे में कहा कि जजपा और इनेलो का ऐसा जनाधार नहीं है कि भाजपा को उनका समर्थन लेकर सरकार बनानी पड़े। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने 75 पार का टारगेट दिया है, जो भाजपा पूरा करेगी और सरकार बनाएगी।
  2. घोषणा पत्र के लिए भाजपा ने बनाई 9 सदस्यीय कमेटी

    भाजपा के घोषणा पत्र पर बोलते हुए कृष्ण लाल पंवार ने कहा कि जब भी कोई घोषणा पत्र बनता है तो जनता की राय लेते हैं। जैसे लोकसभा चुनाव में पूरे देश से सुझाव मांगे थे, उसके बाद घोषणा पत्र बनाया गया था। हरियाणा के घोषणा पत्र के लिए कमेटी बनाई गई है, जिसमें चेयरमैन कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ हैं। वहीं मंत्री कृष्ण लाल पंवार, सांसद बीजेंद्र सिंह, सीएम के मीडिया सलाहकार राजीव जैन, गार्गी, नीरा तोमर, विधायक रणबीर गंगवा इसके सदस्य हैं। 1 अगस्त से लेकर 14 अगस्त तक 90 विधानसभा में एक रथ तैयार करके भेजेंगे, जिसमें सुझाव मांगेगे। इसके बाद रिपोर्ट सीएम मनोहर लाल खट्टर को दी जाएगी।

  3. 30 नई वोल्वो बस खरीदेगी हरियाणा रोडवेज

    पंवार ने कहा कि उनकी सरकार हरियाणा रोडवेज का प्राइवेटाइजेशन नहीं करेगी। 1 दिन में हरियाणा के 33 लाख लोगों को बसों की आवश्यकता होती है। जबकि रोडवेज विभाग महज साढ़े 12 हजार लोगों को सुविधा मुहैया करवा पता है। आज तक हरियाणा रोडवेज में बसों की संख्या 5 हजार से ज्यादा नहीं हुई है। 2014 में भाजपा सरकार आई तो 4100 बसों का फ्लीट उन्हें मिला था। इसके बाद 600 नई बसें बेड़े में मिलाई गई। 367 बसें और मिलाने के लिए सीएम मनोहर लाल खट्टर और हाई परचेज कमेटी की मंजूरी मिल चुकी है। विभाग 30 वोल्वो बसें भी ले रहा है। इसके अलावा प्राइवेट आपरेटर को परमिट देने का केस अभी कोर्ट में विचाराधीन है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments