Tuesday, September 28, 2021
Homeराज्यगुजरातमिसाल /ग्रीन कारिडोर से राजकोट के ब्रेन डेड युवा का हार्ट, लीवर,...

मिसाल /ग्रीन कारिडोर से राजकोट के ब्रेन डेड युवा का हार्ट, लीवर, किडनी अहमदाबाद पहुंचा

  • CN24NEWS-20/06/2019
  • 8 लोगों को मिलेगा जीवनदान
  • मेरे बेटे ने मकान बदला है, बरसों तक जीवित रहेगा-पिता
  • बीटी सवाणी हॉस्पिटल से राजकोट एयरपोर्ट तक विशेष ग्रीन कारिडोर बनाया गया
  • राजकोट. यहां के बीटी सवाणी हॉस्पिटल से एक युवक का हार्ट को सुबह हवाई मार्ग से अहमदाबाद की सीम्स हॉस्पिटल ले जाया गया। इसके लिए हॉस्पिटल के सर्जन, डॉक्टर्स, हॉस्पिटालिटी और मेडिकल वेन द्वारा बीटी सवाणी हॉस्पिटल से राजकोट एयरपोर्ट तक ग्रीन कारिडोर तैयार किया गया। हार्ट, दो किडनी, लिवर, पेनक्रियाज और दो आंखों काे अहमदाबाद पहुंचाया गया। इससे 8 लोगों को जीवनदान मिलेगा।                                        बेटे के ब्रेन डेड होते ही पिता ने लिया फैसला
    पोरबंदर के सेवानिवृत्त सैन्य जवान साजन मोढवाडिया का बेटा जय 17 जून की शाम को जब क्लास से पैदल घर की तरफ जा रहा था, तब घर के पास ही पीछे से आती बाइक ने उसे अपनी चपेट में ले लिया। उसे तुरंत अस्पताल पहुंचाया गया। डॉक्टरों के अथक प्रयासों के बाद भी उसकी तबीयत में कोई सुधार नहीं हुआ। आखिर में 19 जून को डॉक्टरों ने उसे ब्रेन डेड घोषित कर दिया। इस पर उसके पिता साजन भाई ने सोचा कि बेटा सेना में जाना चाहता था। ऐसे में वह तो नहीं रहा, पर यदि उसके अंगों को दान कर दिया जाए, तो वह एक साथ कई लोगों को जीवनदान देकर जीवित रह सकता है। तब उन्होंने बेटे के आर्गन डोनेशन की इच्छा व्यक्त की।
    ग्रीन कारिडोर की व्यवस्था
    अहमदाबाद सीम्स हॉस्पिअल के डॉ. वीरेन शाह सेत टीम एयर एम्बुलेंस के साथ राजकोट पहुंचे। किडनी के लिए अहमदाबाद के डॉ. प्रांजल मोदी की टीम भी पहुंची। रात दो बजे जय के आर्गन निकालने की प्रक्रिया शुरू की गई। इसके बाद सुबह 5 बजे हार्ट समेत सभी आर्गन को लेकर निकलने वाली एम्बुलेंस के लिए सवाणी हॉस्पिटल से एयरपोर्ट तक ग्रीन कारिडोर की व्यवस्था पुलिस बंदोबस्त के साथ की गई। जय के सभी आर्गन अहमदाबाद पहुंच गए हैं।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments