वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ ने कहा- बालाकोट के बाद पाकिस्तान कभी हमारे एयर स्पेस में नहीं आया

0
15
  • करगिल विजय दिवस के 20 साल पूरे होने पर ग्वालियर में आयोजित समारोह में आए थे वायुसेना प्रमुख
  • एयरचीफ मार्शल बीएस धनोआ ने कहा- हमारा उद्देश्य आतंकियों के शिविरों को खत्म करना था, जो पूरा हुआ
  • उन्होंने कहा- हम अपने उद्देश्य में कामयाब हुए, पाकिस्तान कभी हमारे एयर स्पेस में नहीं आया

ग्वालियर। करगिल युद्ध के 20 साल पूरे होने पर ग्वालियर एयरबेस पर आयोजित कार्यक्रम के बाद वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ ने कहा है कि बालाकोट में एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान हमारे हवाई क्षेत्र में नहीं आया था। हमारा उद्देश्य पाकिस्तान स्थित आतंकी शिविरों पर हमला करना था और पाकिस्तान का लक्ष्य हमारी सेना के ठिकानों को निशाना बनाना था। हमने अपना सैन्य उद्देश्य हासिल कर लिया। पाकिस्तान की ओर से किसी विमान ने नियंत्रण रेखा को पार नहीं किया था।

वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ ने पाकिस्तान के हवाई क्षेत्र बंद करने के फैसले पर कहा कि उन्होंने अपना हवाई क्षेत्र बंद कर दिया है जो उनकी समस्या है। हमारी अर्थव्यवस्था जीवंत है और हवाई यातायात बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा है। भारतीय एयफोर्स ने हमारे सिटीजन एयर ट्राफिक को कभी नहीं रोका। केवल 27 फरवरी 2019 को हमने श्रीनगर हवाई क्षेत्र को 2-3 घंटे के लिए बंद कर दिया था। उस वक्त दो देशों के बीच तनान की स्थिति में हमरी हवाई सेवाओं पर इसका कोई असर नहीं हुआ।

करगिल युद्ध में विजय के 20 साल पूरे होने का जश्न मनाया
भारतीय वायुसेना ने करगिल युद्ध में विजय के 20 साल पूरे होने का जश्न मनाया। सोमवार को वायुसेना ने ग्वालियर एयर फोर्स स्टेशन में एक बार फिर से 24 जून, 1999 को टाइगर हिल पर पाकिस्तानी घुसपैठियों पर हुए अटैक के सीन को रीक्रिएट किया। इस मौके पर बीएस धनोआ भी मौजूद थे। 5,062 मीटर की ऊंचाई पर स्थित टाइगर हिल पर स्थित पाकिस्तानी सेना को भारतीय वायुसेना ने ढेर कर दिया था। आखिर में 4-5 जुलाई 1999 को टाइगर हिल पर भारत ने कब्जा जमा लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here