Tuesday, September 28, 2021
Homeकारोबारसिंगापुर के बाजार में अपनी पैठ बढ़ाएगा एसबीआई, लघु और मध्यम श्रेणी...

सिंगापुर के बाजार में अपनी पैठ बढ़ाएगा एसबीआई, लघु और मध्यम श्रेणी के गैर भारतीय उद्यमों पर नजर

सिंगापुर. स्टेट बैंक ऑफ इंडिया सिंगापुर के बाजार में अपनी पैठ बढ़ाने की तैयारी कर रहा है। बैंक की नजर वहां के लघु और मध्यम श्रेणी के उद्यमों (एसएमईज) पर लगी है। सिंगापुर में 65% रोजगार एसएमईज ही सृजित करते हैं। यह सेगमेंट इतना ज्यादा सशक्त है कि 2017 के दौरान सिंगापुर की अर्थव्यवस्था में इनकी भागीदारी 10 लाख करोड़ रुपए यानी 49% रही थी।

सिंगापुर के एसएमईज को कर्ज मुहैया कराएंगेः किशोर
एसबीआई के कंट्री हेड किशोर कुमार का कहना है कि उनकी योजना सिंगापुर के एसएमईज को कर्ज मुहैया कराने की है। स्थानीय और क्षेत्रीय स्तर पर बैंक उनके कारोबार को बढ़ाने में मदद करेगा। किशोर का कहना है कि इससे बैंक को मुनाफा होने की पूरी उम्मीद है।

सिंगापुर के रिटेल और कॉरपोरेट सेक्टर्स को एसबीआई 2008 से कर्ज की सुविधा मुहैया करा रहा है। यहां बैंक की 6 शाखाएं हैं। एटीएम5 नेटवर्क के तहत बैंक पूरे सिंगापुर में एटीएम सेवा दे रहा है। बैंक ने दो रीमिटन्स सेंटर भी यहां स्थापित किए हैं, जो भारतीय कामगारों की मदद करते हैं।

 

योनो एप सिंगापुर में लॉन्च होगाः किशोर
कंट्री हैड का कहना है कि बैंक अपने योनो एप को जल्दी सिंगापुर में लॉन्च करेगा। यह एप भारत में काफी सफल रहा है। फिन-टैक से मिल रही चुनौती को देखते हुए बैंक ने इसे तैयार किया था। इसके लिए वहां की रेग्युलेटरी अथॉरिटी से विचार विमर्श किया जा रहा है। उनका कहना है कि सिंगापुर जैसे तकनीकी रूप से समृद्ध देश में योनो एप बैंकिंग प्रक्रिया को और सशक्त बनाएगा।

किशोर का कहना है कि एसबीआई भारतीय उद्यमियों को लगातार सुविधा मुहैया करा रहा है। अब वह अपनी सेवा गैर भारतीय उद्यमियों को देने की योजना बना रहा है। उनका कहना है कि ऑफशोर बैंक के रूप में एसबीआई पिछले 42 सालों यानी 1977 से अपनी सेवा उद्यमियों को मुहैया करा रहा है।

2018 में मोदी ने कई बैंकिंग एप लॉन्च किए थे 
2018 के अपने सिंगापुर दौरे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भीम, रुपे और एसबीआई एप लॉन्च किए थे। किशोर का कहना है कि इलेक्ट्रानिक ट्रांसफर के लिए रुपे एप को सिंगापुर के नेटवर्क से संबद्ध किया गया है। पेमेंट के लिए दोनों देशों के लोग और उद्यमी इस एप का इस्तेमाल कर रहे हैं।

एसबीआई ने हाल ही में अपने पहले मल्‍टी करंसी इंटरनेशनल डेबिट कार्ड लांच करने के लिए मास्‍टर कार्ड के साथ गठबंधन किया है। उपभोक्‍ता इस सिंगल कार्ड के जरिए मल्‍टीपल करंसी का भुगतान कर सकते हैं। इस प्रीपेड डेबिट कार्ड से उपभोक्‍ता यूएस डॉलर, यूरो, ग्रेट ब्रिटेन पाउंड और सिंगापुर डॉलर समेत 12 करंसी का भुगतान कर सकते हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments