Sunday, September 19, 2021
Homeझारखण्डकोरोना के मोर्चे पर देश में 2 अहम बातें

कोरोना के मोर्चे पर देश में 2 अहम बातें

देश में रोज मिलने वाले कोरोना मरीजों की संख्या 5 महीने बाद 25 हजार से नीचे आई है। इससे पहले यह स्तर 14 मार्च को था। देश में सोमवार को 24,696 मरीज मिले। इनमें से 12,294 (50%) अकेले केरल में मिले। दूसरी ओर, सोमवार को ही टीकाकरण का रिकॉर्ड बना। कुल 88.13 लाख टीके लगे।

देश में अब तक कुल 55.47 करोड़ टीके लग चुके हैं। 43.11 करोड़ लोगों को पहली डोज, जबकि 12.36 लोगों को दोनों डोज लग चुकी हैं। यानी अब तक देश की 33% आबादी को सिंगल और 9.5% आबादी को दोनों डोज लगी हैं। केंद्र सरकार का कहना है कि आने वाले दिनों में टीकाकरण की रफ्तार बढ़ेगी।

केरल अब भी गंभीर खतरे में

WHO के अनुसार, टेस्ट पॉजिटिविटी रेट (संक्रमण दर) अगर 5% से ज्यादा है तो महामारी अनियंत्रित मानी जाती है। इस हिसाब केरल की स्थिति गंभीर है। इसके अलावा पूर्वोत्तर के 4 राज्यों में संक्रमण दर ज्यादा है। बाकी पूरे देश में यह दर 2% से कम हाे चुकी है।

इसीलिए, देश की एक चौथाई मौतें भी केरल में ही

देश में सोमवार को कुल 438 मरीजों की मौत हुई। इनमें 104 केरल में हुईं। महाराष्ट्र में भी मौतों का सिलसिला थम नहीं रहा है। वहां सोमवार को 100 मौतें हुईं। यानी देश की आधी मौतें अब भी केरल और महाराष्ट्र में हो रही हैं। केरल में आने वाले दिनों में भी संक्रमण थमता नहीं दिख रहा, क्योंकि यहां सक्रमण की दर देश की औसत संक्रमण दर से 7 गुना ज्यादा चल रही है। जाहिर है कि मरीज घटने की उम्मीद अभी कम है।

देश में अब सिर्फ 3.6 लाख सक्रिय मरीज

देश में सक्रिय मरीज (इलाजरत) लगातार घट रहे हैं। सोमवार को सक्रिय मरीजों की संख्या 3.6 लाख रह गई। इनमें से 1.72 लाख, यानी 48% अकेले केरल में हैं। यूपी-बिहार-मध्यप्रदेश-राजस्थान, गुजरात, दिल्ली जैसे प्रमुख राज्यों में अब 100 से भी कम मरीज मिल रहे हैं। यह स्थिति दूसरी लहर आने से पहले से भी अच्छी मानी जा रही है।

संक्रमण की दर

केरल 14.7%

मणिपुर 13.2%

मेघालय 11.3%

सिक्किम 11.3%

मिजोरम 10.1%

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments