Friday, September 24, 2021
Homeमध्य प्रदेशमप्र : लॉकडाउन फेज-3 का छठवां दिन : महाराष्ट्र रेल हादसे में...

मप्र : लॉकडाउन फेज-3 का छठवां दिन : महाराष्ट्र रेल हादसे में मारे गए शहडोल और उमरिया के 16 मजदूरों का आज दोपहर बाद अंतिम संस्कार होगा

भोपाल. कोरोना पॉजिटिव मरीजों का बढ़ता आंकड़ा थमने का नाम नहीं ले रहा है। मध्य प्रदेश में शुक्रवार रात तक 3341 संक्रमित मरीजों की पुष्टि हो चुकी है। उधर, शुक्रवार को महाराष्ट्र के औरंगाबाद में रेल हादसे में मरने वाले श्रमिकों के शव विशेष ट्रेन से शहडोल और उमरिया के लिए भेजे गए। दोपहर बाद सभी का अंतिम संस्कार होगा। मरने वालों में शहडोल के 11 और उमरिया के 5 श्रमिक हैं।  इससे पहले जबलपुर में इस ट्रेन में सवार 1300 श्रमिकों को उतारा गया।

शहडोल के अंतौली गांव में एक साथ 11 लोगों का अंतिम संस्कार होगा। इनमें से 9 लोग एक ही परिवार के हैं। यह लोग एक ही मोहल्ले के रहने वाले थे। पूरे गांव में मातम पसरा है। अंतौली गांव में रहने वाले रामनिरंजन के तीन बेटे थे। इनमें दो रावेंद्र और निर्वेश स्टील कंपनी में काम करने गए थे। दोनों हादसे का शिकार हो गए। इसी तरह गजराज सिंह के दो बेटे और दो बेटियां थीं। गजराज के दोनों बेटे बुद्घराज सिंह और शिवदयाल सिंह भी हादसे का शिकार हुए हैं। वहीं, चाचा धन सिंह के साथ काम करने गया दीपक सिंह भी हादसे का शिकार हो गया। रामनिरंजन और गजराज सिंह भी रिश्ते में दूर के भाई लगते हैं।

32400 मजदूरों को गुजरात और महाराष्ट्र से लाएंगी 27 ट्रेनें

  • लॉकडाउन में गुजरात और महाराष्ट्र में फंसे मध्यप्रदेश के मजदूरों को घर पहुंचाने के लिए सरकार ने तैयारी कर ली है। मई में 27 श्रमिक स्पेशल ट्रेन चलेंगी, जो 32400 मजदूरों को लेकर आएंगी। 15 ट्रेन चलना तय हो चुका है। बाकी 12 भी 4- 5 दिन में फाइनल हो जाएंगी।
  • एंट्री पाॅइंट रतलाम के अलावा रेलवे इन्हें मेघनगर, उज्जैन, शुजालपुर और मक्सी तक चला सकता है। मजदूरों से रेलवे किराया नहीं लेगा, क्योंकि मध्यप्रदेश सरकार ने किराए के एक करोड़ रुपए (दूरी के हिसाब से प्रति ट्रेन 4 से 7 लाख) एडवांस में रेलवे को जमा करा दिए हैं। इसके बदले रेलवे हर ट्रेन से आने वाले मजदूरों के टिकट प्रिंट करके सरकार तक पहुंचा रही है।

कोरोना अपडेट्स 

  • भोपाल में 24 मौत, इसमें 19 गैस पीड़ित: राजधानी में कोरोना से 32 दिन में अब तक 24 मौत हो चुकी हैं। इनमें 19 गैस पीड़ित थे। 17 पुरुष थे, जबकि 2 महिलाओं की मौत हुई। ज्यादातर मरने वालों की उम्र 35 से ऊपर थी।
  • इंदौर में डॉक्टरों पर थूकने और काटने की धमकी: कोविड अस्पताल एमटीएच में मरीजों द्वारा बदसलूकी करने का मामला सामने आया है। डॉक्टर्स के मुताबिक, अस्पताल में भर्ती मरीज नौशाद (43) ने जूनियर डॉक्टर और स्टाफ को अपशब्द कहे। उन्हें काटने और थूकने की धमकी दी।
  • चंदन नगर में फिर पुलिस पर हमला: इंदौर के चंदन नगर में पुलिस पर दूसरी बार हमले का मामला सामने आया है। पहले दिन अधिकारी मामला छिपाते रहे, लेकिन जब सिपाहियों ने इसका विरोध किया तो उपद्रवियों के खिलाफ केस दर्ज किया। इसमें तीन लोगों को हिरासत में लिया। विवाद एक स्कूटी पर जा रहे तीन लोगों को रोकने को लेकर हुआ था। घटना बुधवार की है।
  • बिना सूचना दिए खरगोन पहुंचे अधिकारी, कलेक्टर ने नोटिस दिया: इंदौर से बिना ई-पास से खरगोन गए पीआईयू के कार्यपालन यंत्री एसएन पंवार को खरगोन कलेक्टर गोपालचंद्र डाड ने शोकॉज नोटिस दिया है। कलेक्टर ने कहा कि बिना पास और सूचना के इंदौर जैसे रेड जोन एरिया से सफर करना प्रतिबंधित है। ऐसे लोगों को बिना 14 दिन क्वारैंटाइन के नहीं रहने दिया जा सकता है। कलेक्टर ने पंवार को क्वारैंटाइन करने के आदेश दिए हैं। इंदौर में लोगों की आवाजाही पर अभी काफी सख्ती बरती जा रही है।
  • स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक 3341 संक्रमित : इंदौर 1727, भोपाल 679, उज्जैन 220, जबलपुर 116, खरगोन 80, धार 78, रायसेन 64, खंडवा 52,  होशंगाबाद 36, मंदसौर 51, बुरहानपुर 42,  बड़वानी-26, देवास 32, मुरैना 22, रतलाम 23, विदिशा 13, आगर मालवा 13, ग्वालियर 12, शाजापुर 8, नीमच, सागर और छिंदवाड़ा 5-5, श्योपुर 4, हरदा-अलीराजपुर-शहडोल-टीकमगढ़-अनूपपुर-शिवपुरी में 3-3, रीवा 2, सीहोर, बैतूल, डिंडोरी, अशोकनगर, पन्ना-निवाड़ी, सतना में एक-एक संक्रमित मिला। अन्य राज्य के 2 मरीज हैं।
  • अब तक 200 की मौत : इंदौर 86, उज्जैन 43, भोपाल 24, खरगोन 8, देवास में 7, खंडवा 7, बुरहानपुर-मंदसौर 4-4, जबलपुर 5, होशंगाबाद-रायसेन में 3-3, धार, आगर मालवा, शाजापुर, छिंदवाड़ा, अशोकनगर, सागर और सतना में एक-एक की मौत हो गई।  (स्वास्थ्य विभाग द्वारा 8 मई को शाम 6 बजे जारी बुलेटिन के अनुसार)

 

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments