Friday, September 24, 2021
Homeहरियाणा8 साल पहले गंडासी से हमला कर बड़े भाई की अंगुलियां काटी...

8 साल पहले गंडासी से हमला कर बड़े भाई की अंगुलियां काटी थी, अब भाभी की गंडासी मारकर हत्या की

आम की गुठली व छिलके धीरज उर्फ वटी के बच्चों ने अपने ताऊ अनिल कुमार के घर में फेंक दिए। ताऊ छत पर थे और ताई सपना ने जब गुठली व छिलके पड़े देखे तो देवर धीरज व देवरानी सुमन से शिकायत की, जिस पर उनमें झगड़ा हो गया। धीरज व सुमन ने सपना से मारपीट की। इसी बीच धीरज ने गंडासी से सपना के सिर पर वार कर दिया। जब अनिल छत से आने लगा तो उस पर ईंटों से हमला कर घायल कर दिया। अनिल के सिर में 8 टांके लगे हैं। बीच-बचाव होने पर अनिल रेहड़ी में सपना को कैंट सिविल अस्पताल लेकर पहुंचा तो डाॅक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था।

सपना अपने पति और बच्चों के साथ
  • कैंट की डेहा काॅलाेनी में वीरवार रात काे हुई थी वारदात, आराेपी देवर गिरफ्तार, देवरानी फरार

यह वारदात वीरवार रात को कैंट की डेहा काॅलाेनी में हुई थी। शुक्रवार काे कैंट थाना पुलिस ने अनिल कुमार की शिकायत पर उसके छाेटे भाई धीरज उर्फ वटी व उसकी पत्नी सुमन के खिलाफ इरादतन हत्या व मारपीट का मामला दर्ज किया है। दोनों आरोपी वारदात के बाद से फरार हैं। उधर, सिविल अस्पताल में शुक्रवार को पोस्टमार्टम के बाद शव वारिसों को सौंप दिया गया।

मेरी अंगुलियां काटी ताे मां और रिश्तेदाराें के कहने पर कर लिया था समझाैता, मुझे पता था- वो हत्या करेगा

काटी गई अंगुलियों को दिखाते डेहा कॉलोनी निवासी अनिल।
काटी गई अंगुलियों को दिखाते डेहा कॉलोनी निवासी अनिल।

 

छोटे भाई धीरज उर्फ वटी को मुझसे व मेरी पत्नी से पता नहीं कौन-सी दुश्मनी थी। 8 साल पहले भी छोटी-मोटी बातचीत के पीछे धीरज ने मेरी पत्नी पर गंडासी से हमला किया था, जिसे मैंने हाथ से रोकने की काेशिश की ताे मेरे बाएं हाथ की 3 उंगलियां कट गई थी। मैंने अपनी मां, रिश्तेदारों के कहने पर समझौता कर लिया था। दूसरे भाई नीरज की पत्नी अपने 4 बच्चों को छोड़कर चली गई थी। इसलिए मेरी पत्नी मेरे और भाई नीरज के 4-4 बच्चों की देखभाल कर रही थी, मुझे विश्वास नहीं था कि धीरज हत्या करेगा। मेरी मां क्यों धीरज का बचाव कर रही है यह तो मुझे भी नहीं पता।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments