Sunday, September 26, 2021
Homeपंजाबखुदकुशी करने वाली युवती को एक हफ्ते बाद आया होश, परिवार को...

खुदकुशी करने वाली युवती को एक हफ्ते बाद आया होश, परिवार को बताने पर शर्मिंदगी हुई तो लगा लिया फंदा

शिव नगर में एकतरफा प्यार में पागल सिरफिरे आशिक से तंग आकर गले में फंदा लगा खुदकुशी की कोशिश करने वाली युवती को एक हफ्ते बाद होश आ गया है। अब पुलिस को दिए बयान में उसने कहा कि आरोपी ने उससे जबरदस्ती शादी के लिए धमकाया था और डंडे भी मारे। यह बात परिवार को बताने के बाद उसे शर्मिंदगी हुई तो उसने घर में ही फंदा लगा लिया। हालांकि घरवालों को पता चल गया और उसे बचा लिया गया। युवती ने खुदकुशी से पहले एक नोट लिखा था, जिसमें उसने आरोपी से परेशान होने का खुलासा किया था। पुलिस ने उसे बरामद कर लिया था लेकिन कार्रवाई के लिए युवती के होश में आने का इंतजार करती रही।

खुदकुशी की कोशिश करने वाली युवती।
खुदकुशी की कोशिश से पहले युवती ने यह नोट लिखा था।
खुदकुशी की कोशिश से पहले युवती ने यह नोट लिखा था।

 

घर का काम कर रही थी, आरोपी बोला-तेरा रिश्ता कहीं और नहीं होने दूंगा

शिव नगर की रहने वाली युवती ने बताया कि बीती 11 अप्रैल को दोपहर 1.30 बजे वह अपने घर में काम कर रही थी। उसकी मां परिवार के साथ खांबड़ा चर्च गई थी। वह घर में अकेली थी और ऊपरी मंजिल पर मामा सनी कुमार सो रखा था। तभी उनके घर वरिंदर कुमार उर्फ गोपी निवासी न्यू शिव नगर आया। वह कहने लगा कि मैं तेरा रिश्ता कहीं और नहीं होने दूंगा।

मां की इच्छा से शादी करने की बात कही तो डंडों से पीटा

इस पर युवती ने कहा कि जहां उसकी मां चाहेगी, मैं शादी कर लूंगी। वह करीब दो साल से एक-दूसरे को जानते थे। मां की इच्छा के मुताबिक शादी करने की बात सुनकर गोपी भड़क उठा और डंडे से उसकी पिटाई शुरू कर दी। उसने शोर मचाया तो उसका मामा नीचे आ गया। उन्हें देखकर आरोपी वरिंदर गोपी छत के ऊपर से भाग निकला। जाते वक्त उसने धमकी भी दी।

फंदा लगा पैर के नीचे से सिलेंडर फेंका तो आवाज सुन आ गए परिजन

थोड़ी देर में उसकी मां घर आई तो उसने पूरी बात बताई। उसकी मां ढांढस बंधा गली के बाहर बैठ गई। वह इस बात से शर्म महसूस करने लगी तो उसने कमरे में बैड के ऊपर खाली गैस सिलेंडर रखा और उसके ऊपर चढ़कर पंखे पर बांध चुन्नी से फंदा लगा लिया। जब उसने पैर से सिलेंडर को धक्का मारा तो उसकी आवाज सुनकर उसके परिजन पहुंच गए और सिविल अस्पताल में भर्ती करा दिया। वहां उसकी हालत नाजुक बनी रही। करीब एक हफ्ते बाद उसकी हालत बयान देने लायक हुई तो अब पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments