दिल्ली में एक महिला मंकीपॉक्स से संक्रमित पाई गई

0
18

दिल्ली में एक महिला मंकीपॉक्स से संक्रमित पाई गई है. आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि 31 साल की नाइजीरियाई महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. अधिकारी ने बताया कि देश में पहली महिला है जिसमें मंकीपॉक्स के संक्रमण की पुष्टि हुई है. सूत्रों ने बताया कि महिला को बुखार है और उसके हाथ में घाव हैं, और उसे लोकनायक जयप्रकाश अस्पताल में भर्ती कराया गया है. उन्होंने बताया कि उसका नमूना जांच के लिये भेजा गया था और बुधवार को उसमें संक्रमण की पुष्टि हुई. उन्होंने बताया कि हाल ही में उसकी किसी विदेश यात्रा की जानकारी नहीं मिली है. दिल्ली में मंकीपॉक्स का तीसरा मामला अफ्रीकी मूल का एक 35 वर्षीय व्यक्ति का था, जिसकी विदेश यात्रा का कोई हालिया इतिहास नहीं था. उसे सोमवार को एलएनजेपी अस्पताल में भर्ती कराया गया था, और अगले दिन जांच में वह संक्रमित पाया गया था.राष्ट्रीय राजधानी में अब तक चार लोगों में मंकीपॉक्स की पुष्टि हुई है. वहीं पांच केस केरल में आए हैं. अब तक 9 लोग मंकीपॉक्स से संक्रमित हुए हैं. दिल्ली और केरल में अब तक एक-एक मरीज को अस्पताल से छुट्टी मिली है. वहीं केरल में एक की संक्रमण से मौत हुई है.

मंकीपॉक्स के बढ़ते मामलों के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने आज महामारी से बचने के लिए ‘क्या करें’ और ‘क्या न करें’ से संबंधित एक सूची जारी की. मंत्रालय ने यह भी कहा कि यदि कोई व्यक्ति लंबे समय तक या बार-बार संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आता है, तो वह भी संक्रमित हो सकता है.मंत्रालय ने कहा कि संक्रमण से बचने के लिए संक्रमित व्यक्ति को अन्य व्यक्तियों से दूर रखा जाना चाहिए. इसने कहा कि इसके अलावा हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल, साबुन और पानी से हाथ धोना, मास्क पहनना और दस्ताने पहनना कुछ ऐसे उपाय हैं, जिनसे बीमारी से बचा जा सकता है. मंत्रालय ने बताया कि उन लोगों के साथ रुमाल, बिस्तर, कपड़े, तौलिए और अन्य वस्तुएं साझा करने से बचा जाना चाहिए, जो संक्रमित पाए गए हैं. इसने रोगियों और गैर-संक्रमित व्यक्तियों के गंदे कपड़े एक साथ नहीं धोने और सार्वजनिक कार्यक्रमों में जाने से बचने की सलाह भी दी. मंत्रालय ने कहा, ”संक्रमितों और संदिग्ध रोगियों से भेदभाव नहीं करें. इसके अलावा किसी अफवाह या गलत जानकारी पर विश्वास न करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here