Sunday, September 26, 2021
Homeटॉप न्यूज़एक्टर बिक्रमजीत कंवरपाल का कोरोना से निधन, आर्मी ऑफिसर रह चुके हैं...

एक्टर बिक्रमजीत कंवरपाल का कोरोना से निधन, आर्मी ऑफिसर रह चुके हैं अभिनेता

कोरोना महामारी लगातार लोगों को निगल रही है। इसके वजह से अबतक कई लोग अपनी जान गवां चुके हैं। आम हो या खास ये बीमारी किसी को भी नहीं छोड़ रही है। ये महामारी कई लोगों पर काल बनकर आया है। इसी बीच अब बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री से एक बुरी खबर आई है। जाने-माने अभिनेता बिक्रमजीत कंवरपाल का कोरोना से निधन हो गया। 52 साल के बिक्रमजीत के निधन की खबर ने सभी को सदमे में ला दिया। उनके निधन से न सिर्फ उनके परिवार बल्कि पूरी इंडस्ट्री में शोक की लहर है। एक्टर के निधन पर लगातार फैंस और स्टार्स सोशल मीडिय पर दुख जाहिर कर रहे हैं।

बिक्रमजीत कंवरपाल का जन्म हिमाचल प्रदेश में एक आर्मी ऑफिसर के घर हुआ था। बिक्रमजीत खुद आर्मी में कार्यरत थे। वह साल 2002 में सेना से रिटायर्ड हो गए। इसके बाद उन्होंने 2003 में उन्होंने बॉलीवुड में डेब्यू किया।

बिक्रमजीत कंवरपाल का जन्म हिमाचल प्रदेश में एक आर्मी ऑफिसर के घर हुआ था। बिक्रमजीत खुद आर्मी में कार्यरत थे। वह साल 2002 में सेना से रिटायर्ड हो गए। इसके बाद उन्होंने 2003 में उन्होंने बॉलीवुड में डेब्यू किया। बिक्रमजीत ने ‘पेज 3’, ‘पाप’, ‘कॉरपोरेट’, ‘अतिथि तुम कब जाओगे’, ‘मर्डर 2’, ‘हे बेबी’, ‘प्रेम रतन धन पायो’, ‘आरक्षण’, ‘2 स्टेट्स’, ‘रॉकेट सिंह: सेल्समैन ऑफ द ईयर’ और ‘द गाजी अटैक’ सहित अन्य फिल्में कीं। बिक्रमजीत बॉलीवुड ही नहीं बल्कि छोटे पर्दे पर भी काम चुके हैं।

बिक्रमजीत कंवरपाल के निधन पर जाने माने फिल्ममेकर अशोक पंडित ने ट्वीट कर शोक व्यक्त किया। उन्होंने लिखा- ‘सुनकर दुख हुआ। आज सुबह कोरोना की वजह से मेजर बिक्रमजीत कंवरपाल का कोविड से निधन हो गया। एक सेवानिवृत्त सेना अधिकारी कंवरपाल ने कई फिल्मों और टीवी सीरियल में सहायक भूमिकाएं निभाई थीं। उनके परिवार और करीबी लोगों के प्रति मेरी संवेदना। ॐ शान्ति!’

वहीं बॉलीवुड निर्देशक विक्रम भट्ट ने भी शोक जाहिर किया हैं। उन्होंने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर बिक्रमजीत की एक तस्वीर शेयर करे हुए एक लंबा पोस्ट लिखा हैं। वह लिखते हैं- ‘मेजर बिक्रमजीत कंवरपाल का निधन हो गया। इस महामारी ने उन्हें हमसे छीन लिया। मैंने उनके साथ कई फिल्में की थीं।‘ विक्रम आग लिखते हैं कि ‘प्रत्येक जीवन जो हम खो देते हैं वह केवल एक नंबर नहीं है। हम इसे एक नंबर बनने नहीं दे सकते। हर एक का विशेष मित्र, उनकी आत्मा को शांति मिले।’

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments