Thursday, September 23, 2021
Homeहिमाचलशहीद को अंतिम विदाई : माटी के लाल अंचित शर्मा पंचतत्व में...

शहीद को अंतिम विदाई : माटी के लाल अंचित शर्मा पंचतत्व में विलीन; लोगों ने लगाए ‘अमर रहे’ के नारे, आतंकियों से मुठभेड़ में मिली वीरगति

अंचित का पार्थिव शरीर अरुणाचल के डिब्रूगढ़ से हवाई मार्ग से दिल्ली और फिर चंडीगढ़ लाया गया।
  • अरुणाचल प्रदेश में LAC पर आतंकी मुठभेड़ का जवाब देते हुए शहीद हुआ था अंचित

हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले के वीर जवान शहीद अंचित शर्मा (23) का शव शनिवार को पैतृक गांव पहुंचा, जहां उन्हें अंतिम विदाई दी गई। पैतृक गांव धार पजेरा में राजकीय सम्मान के साथ शहीद का अंतिम संस्कार किया गया। हजारों लोगों ने अंचित को नम आंखों से श्रृद्धांजलि अर्पित की।

शुक्रवार को अंचित का पार्थिव शरीर अरुणाचल के डिब्रूगढ़ से हवाई मार्ग से दिल्ली और फिर चंडीगढ़ लाया गया। शनिवार सुबह सड़क मार्ग से पार्थिव देह को राजगढ़ लाया गया। राजगढ़ में हजारों लोगों ने शहीद को श्रद्धांजलि दी। वहां से पार्थिव देह को गांव धार पजेरा लाया गया। जहां परिजनों व अन्य गणमान्य लोगों ने श्रद्धासुमन अर्पित किए। इसके बाद राजकीय सम्मान के साथ गांव में ही अंचित का अंतिम संस्कार कर दिया गया।

अंचित अरुणाचल प्रदेश में LAC पर आतंकी मुठभेड़ का जवाब देते हुए भारत भूमि की आन-बान और शान की रक्षा करते हुए शहीद हो गया। सिर्फ 23 साल का यह वीर जवान एक महीना पहले ही जल्द लौटने की आस के साथ घर से विदा हुआ था। राज्यपाल कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार, राजगढ़ उपमंडल की बोहल टालिया पंचायत के धार पंजहेरा गांव का अंचित कुमार अरुणाचल प्रदेश में LAC पर सेना की 21 डोगरा बटालियन में तैनात था।

पिता राजेश व मां सुनीता के साथ-साथ दादा-दादी से 24 अक्टूबर  को वापस ड्यूटी पर लौटते वक्त जल्द घर आने का वादा करके गया था। अंचित माता-पिता का इकलौता बेटा था। दूसरी संतान बेटी है। परिजन ने बताया कि मंगलवार शाम करीब 6 बजे उसकी शहादत की जानकारी मिली थी। बताया जाता है कि मंगलवार सुबह जवान एक पोस्ट से दूसरी पोस्ट पर जा रहे थे। इसी दौरान आतंकियों ने हमला बोल दिया।

ऑपरेशन में अंचित कुमार शहीद हो गया। घर पर माता-पिता, दादा कृष्ण दत्त शर्मा, दादी शारदा देवी की आंखें नम हैं। हालांकि, वो पोते की शहादत पर गर्व भी महसूस कर रहे हैं। छोटी बहन नीतिका को भाई की शहादत की सूचना मिलने के बाद गहरा सदमा लगा है। हंसमुख व मिलनसार स्वभाव के अंचित की अचानक ही शहादत की खबर सुनकर हर कोई स्तब्ध है, साथ ही इलाके में शोक की लहर है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments