Friday, September 24, 2021
Homeपंजाबपंजाब कांग्रेस में घमासान:विधायक परगट सिंह बोले- ओलिंपियन और पद्मश्री अवार्डी होने...

पंजाब कांग्रेस में घमासान:विधायक परगट सिंह बोले- ओलिंपियन और पद्मश्री अवार्डी होने के बाद भी मुझे धमकी दी गई

पंजाब कांग्रेस में मचा सियासी घमासान बढ़ता जा रहा है। विधायक परगट सिंह को मिली धमकी के बाद कलह बढ़ गई है। परगट ने मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार संदीप संधू पर धमकाने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि उन्हें मिली धमकी वे जिंदगीभर नहीं भूल सकते हैं। उन्होंने कहा, ‘ ओलिंपियन और पद्मश्री अवार्डी को इस तरह धमकी दी जा सकती है तो आम आदमी का क्या होगा?’ इससे पहले मंगलवार सुबह पार्टी प्रधान सुनील जाखड़ ने एक बैठक करके पार्टी में एकजुटता की बात कही।

सुखजिंदर सिंह रंधावा ने मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

जाखड़ ने विधायकों व मंत्रियों से अलग-अलग बैठकें न करने की गुजारिश की, लेकिन दोपहर में ही कैबिनेट मंत्री चरनजीत चन्नी के घर पर सुखजिंदर सिंह रंधावा, विधायक परगट सिंह सहित सांसद प्रताप सिंह बाजवा ने जुटकर महिला आयोग और धमकी मामले में कैप्टन के खिलाफ मोर्चा खोल दिया।

परगट के समर्थन में बाजवा ने कहा, ‘ बादल परिवार पर कार्रवाई करने की बजाए अपने ही नेताओं और वर्करों के खिलाफ विजिलेंस का गैरकानूनी इस्तेमाल किया जा रहा है। नवजोत सिंह सिद्धू ने कैप्टन का नाम लिए बिना सोशल मीडिया पर तंज कसा। सभी ने एक सुर में कहा- मंत्रियों व विधायकों द्वारा उठाए जा रहे मुद्दों से ध्यान भटकाने को चन्नी मामला जानबूझकर उठाया जा रहा है। मुख्यमंत्री स्थिति स्पष्ट करें।’

अधिकारियों से शिकायत है तो हमें बताएं: जाखड़

पंजाब प्रदेश प्रधान सुनील जाखड़ ने कहा कि जनता में पार्टी की जो किरकिरी हो रही है, वह सब इन मीटिंग के कारण ही है। कई विधायकों, मंत्रियों ने अलग-अलग मीटिंग कर अपनी बातें सार्वजनिक की हैं। परगट के साथ जो कुछ हुआ, वह सिर्फ अफवाह है। अगर किसी विधायक को शिकायत है, तो वह सबसे पहले पार्टी से शेयर करें। हम पहले भी कह चुके हैं अधिकारियों का रवैया ठीक नहीं है।

किस कांग्रेसी नेता ने क्या कहा?

  • भारत भूषण आशु ने कहा, सभी को अपने मसले पार्टी प्लेटफार्म पर उठाने चाहिए। परगट को धमकाने व चन्नी केस दोबारा खोलना दुर्भाग्यपूर्ण है।
  • नवजोत सिंह सिद्धू ने सोशल मीडिया पर लिखा, जो भी सच की आवाज बोलता है, वह आपका दुश्मन बन जाता है। आप अपने पार्टी सदस्यों को धमकाकर अपने भय व असुरक्षा को दिखा रहे हो। मंत्री, विधायक व सांसद जनता की आवाज उठा रहे हैं।
  • त्री चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा, महिला आयोग की चेयरमैन के बयान को लेकर हम सब इकट्ठा हुए थे। मेरे ऊपर एक साजिश के तहत कार्रवाई की मांग की जा रही है जबकि किसी ने शिकायत तक नहीं की है। सभी ने सीएम से स्थिति साफ करने को कहा है।
  • प्रताप सिंह बाजवा ने कहा परगट को विजिलेंस की धमकी व नवजोत सिद्धू के खिलाफ विजिलेंस की कार्रवाई गैरकानूनी है। कैप्टन गलत टीम के साथ काम कर रहे हैं। महिला आयोग की चेयरपर्सन को पता हो कि वे न धरना दे सकती है ना राजनीतिक टिप्पणी कर सकती हैं।
  • मंत्री सुखजिंदर रंधावा ने कहा, हमारी लड़ाई गुरुग्रंथ साहब की बेअदबी मामले में आरोपियों को सजा ना दिलवाने को लेकर है। पता नहीं कौन इस मामले को दबाना चाह रहा है। चन्नी मामले में महिला कमीशन की अध्यक्ष को तीन साल बाद ही मामला क्यों याद आया
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments