Sunday, September 26, 2021
Homeबिहारवारदात : सड़क निर्माण कंपनी के बेस कैंप पर अपराधियों का हमला,...

वारदात : सड़क निर्माण कंपनी के बेस कैंप पर अपराधियों का हमला, हाइवा चालक को मार डाला

मुजफ्फरपुर. सरैया थाने के जैतपुर ओपी के खैरा गांव में मुजफ्फरपुर-देवरिया सड़क निर्माण कार्य कर रही राजा कंस्ट्रक्शन कंपनी के बेस कैंप पर दो बाइक से पहुंचे अपराधियों ने हमला कर दिया। अपराधियों ने आते ही पहले मैनेजर और मुंशी को खोजा। जब वह नहीं मिले तो हाइवा चालक हीरालाल राम की गोली मार कर हत्या कर दी। बुधवार रात 8:40 बजे उस समय यह वारदात हुई जब चालक और अन्य कर्मी खाना खा रहे थे।

हत्या के बाद अपराधियों ने कई राउंड फायरिंग कर दहशत फैला दी। फायरिंग करते हुए धनुपरा कि ओर फरार हो गए। जाते-जाते अपराधियों ने काम बंद रखने की चेतावनी भी दी। आशंका है कि रंगदारी के लिए अत्याधुनिक हथियार से अपराधियों ने बेस कैम्प पर हमला किया है। गोली लगने से कई वाहन के शीशे टूट गए।

प्रभारी एसएसपी ने बताया कि पटना की इस सड़क निर्माण कंपनी के मालिक से बात हुई है। उन्होंने रंगदारी या लेवी मांगे जाने की बात से इनकार किया है। हाइवा चालक हीरालाल राम पूर्वी चंपारण जिले के लखवारा का रहने वाला था। वह दिन भर काम करने के बाद शाम में अपने रूम में खाना बनाने के बाद साथियों संग खाना खा रहा था। अपराधियों ने जब उसे गोली मारी तब उसके प्लेट में आधा भोजन बचा हुआ था। गोली लगने के बाद वह खाने के प्लेट के पास ही ढेर हो गया। एएसपी अभियान विमलेश चंद्र झा ने बताया कि घटना स्थल पर जैतपुर ओपी प्रभारी को भेजा गया है। प्रथम दृष्टया आपराधिक मामला लग रहा है।

तीन दिन पहले ही मुंशी ने बेस कैंप से अलग लिया था डेरा
निर्माण कंपनी के मुंशी और मैनेजर तीन दिन पहले ही गांव में डेरा लेकर रहने लगे थे। इससे पहले वह बेस कैंप स्थित आवास में ही रहते थे। इससे यह आशंका है कि मुंशी को किसी तरह का भय रहा होगा। क्योंकि गांव में हमला करना आपराधिक गिरोह के लिए आसान नहीं होता।

मुजफ्फरपुर-देवरिया मार्ग : 38.75 किमी. का कंपनी को ठेका
पटना के पालीगंज की राजा कंस्ट्रक्शन कंपनी 46.69 करोड़ की लागत से मुजफ्फरपुर-देवरिया मार्ग का निर्माण करा रही है। 38.75 किमी. लंबी इस सड़क के निर्माण के साथ चौड़ीकरण भी कराया जा रहा है। 10 किमी. से अधिक निर्माण हो चुका है। कंपनी को 5 करोड़ रुपए से अधिक की राशि भुगतान का ब्योरा विभागीय साइट पर जारी किया गया है।

इसी इलाके में दो निर्माण कंपनी से 3 महीने पहले की गई थी लेवी डिमांड
तीन माह पहले इसी इलाके में रेल लाइन का कार्य करा रही दो निर्माण कंपनी से लेवी की डिमांड की गई थी। सुगौली रेल लाइन के पारू स्थित बेस कैम्प पर लेवी के लिए बाइक सवार दस्ता पहुंचा था। जबकि, मुजफ्फरपुर-छपरा रेल लाइन कार्य करा रही कंपनी के कोल्हुआ बेस कैम्प पर नक्सली पहुंचे थे। दरभंगा में सड़क निर्माण कंपनी के दो इंजीनियरों की हत्या रंगदारी के लिए ही कर दी गई थी।

निर्माण कंपनी के मालिक ने रंगदारी या लेवी मांगे जाने से इनकार किया है। हत्या का केस दर्ज कर जांच की जा रही है। -नीरज सिंह, प्रभारी एसएसपी

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments