Friday, September 24, 2021
Homeहरियाणागुरुग्राम-फरीदाबाद में रात एक बजे तक खुलेंगे बार, शराब और बीयर होगी...

गुरुग्राम-फरीदाबाद में रात एक बजे तक खुलेंगे बार, शराब और बीयर होगी सस्ती

  • हरियाणा सरकार ने आबकारी नीति 2020-21 की घोषणा की
  • बीयर-शराब होगी सस्ती, लाइसेंस शुल्क में की गई कटौती
  • हरियाणा के तीन शहरों मे रात एक बजे तक खुलेंगे बार

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की अध्यक्षता में हरियाणा कैबिनेट की बैठक के बाद गुरुवार को आबकारी नीति 2020-21 की घोषणा की गई. समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक नई आबकारी नीति में अब गुरुग्राम, फरीदाबाद और पंचकुला में रात 1 बजे तक बार खुले रहेंगे. साथ ही ग्राहकों को शराब देने वाले होटलों और रेस्तरां के लिए लाइसेंस शुल्क भी कम किया गया है.

हरियाणा की नई आबकारी नीति के मुताबिक दुकानदार चाहे तो रात एक बजे के बाद भी दुकान खोल सकते हैं लेकिन इसके लिए उन्हें अलग से शुल्क देना पड़ेगा. रात एक बजे के बाद एक घंटे अतिरिक्त बार खोलने के लिए बार मालिक को सालाना 10 लाख रुपये प्रति घंटे अतिरिक्त शुल्क देने होंगे. हरियाणा सरकार ने बीयर पर उत्पाद शुल्क 10 रुपये प्रति बल्क लीटर (BL) कम कर दिया है. उदाहरण के लिए वैसी बीयर जिसमें अल्कोहल की मात्रा 3.5 से 5.5 फीसदी है, उसका उत्पाद शुल्क 50 रुपये की जगह अब 40 रुपये प्रति बल्क लीटर होगा.

वित्तीय वर्ष 2020-21 में 7,500 करोड़ का लक्ष्य

प्रदेश के उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि सुपर माइल्ड बीयर की नई कैटेगरी बनाई जाएगी. उन्होंने उत्पाद शुल्क के जरिए वित्तीय वर्ष 2020-21 में 7,500 करोड़ रुपये आय का लक्ष्य रखा है. जबकि वर्तमान वित्तीय वर्ष में यह लक्ष्य 6600-6700 करोड़ रुपये है.

चौटाला ने बताया कि चार स्टार वाले होटल और बार के लिए लाइसेंस शुल्क 38 लाख से घटाकर 22.5 लाख रुपये प्रति साल कर दिया गया है. जबकि थ्री स्टार वाले होटल का लाइसेंस शुल्क 20 लाख से 15 लाख रुपये कर दिया गया है. हालांकि यह गुरुग्राम में 20 लाख और फरीदाबाद में 17 लाख रुपये होगा.

हरियाणा का बजट 28 फरवरी को होगा पेश

हरियाणा विधानसभा का बजट सत्र गुरुवार से शुरू हो गया. मनोहर लाल खट्टर के नेतृत्व वाली सरकार 28 फरवरी को विधानसभा में बजट पेश करेगी, जिसके लिए सरकार ने विधायकों से सुझाव लेकर बजट को अंतिम रूप दिया है. तीन दिनों तक मुख्‍यमंत्री मनोहर लाल ने विधायकों के साथ बैठक कर प्री बजट के लिए सुझाव लिए और उसी के आधार पर बजट का रोडमैप खींचा गया है.

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के पास वित्त मंत्रालय का विभाग होने के नाते वो पहली बार बजट पेश करेंगे. इसी मद्देनजर उन्होंने पिछले तीन दिनों तक विधायकों संग प्री-बजट को लेकर चर्चा की. इस दौरान प्रदेश के 75 विधायकों ने सीएम के सामने अपने सुझाव रखे जिनमें 71 सुझाव मिले हैं.

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments