आईसीसी से बात करते हुए गांगुली ने बताया, पुरुषों के आईसीसी टी20 विश्व कप की मेजबानी करना हमारे लिए काफी सम्मान की बात है। भारत ने साल 1987 के आईसीसी विश्व के बाद से ही कई वैश्विक टूर्नामेंट का सफल आयोजन किया है और मुझे इस बात का पूरा यकीन है कि दुनिया के अलग अलग कोने से आने वाले क्रिकेटर यहां हमारे देश में आकर क्रिकेट खेलने को लेकर उत्साहित होंगे।

मैंने आईसीसी के आयोजन में बतौर खिलाड़ी हिस्सा बनकर बहुत ही ज्यादा आनंद उठाया और अपने अनुभव के आधार पर यह कह सकता हूं कि वैश्विक क्रिकेट के इस वातावरण जिसके हर एक मैच का आनंद दुनियाभर के करोड़ों लोग उठाते हैं उसे मात देना मुमकिन नहीं। अब मैं एक प्रसाशक के तौर पर इसका हिस्सा बनने को देख रहा हूं क्योंकि हम सबसे प्रतिष्ठित आयोजन की मेजबानी करने जा रहे हैं।

पुरुषों के 7वें आईसीसी विश्व कप का आयोजन भारत में किया जाना है। 5 साल के बाद भारत एक बार फिर से इस टूर्नामेंट की मेजबानी करेगा। 16 देशों की टीमें इसमें हिस्सा लेने वाली हैं। न्यू पपुआ गिनीया टूर्नामेंट में क्वालीफाई करने वाली टीम रही जो पहली बार विश्व कप खेलेगी।

अगले साल अक्टूबर-नवंबर के बीच टूर्नामेंट का आयोजन किया जाना है। भारत की मेजबानी वाले इस टूर्नामेंट में अफगानिस्तान, ऑस्ट्रेलिया, बांग्लादेश, इंग्लैंड, आयरलैंड, नामिबिया, नीदरलैंड्स, न्यूजीलैंड, ओमान, पाकिस्तान, न्यू पपुआ गिनीया, स्कॉटलैंड, साउथ अफ्रीका, श्रीलंका और वेस्टइंडीज की टीमें इसमें भाग लेंगी।