Monday, September 27, 2021
Homeझारखण्डपहल : भूली में बीसीसीएल देगी 600 एकड़ जमीन, निगम बनाएगा 60...

पहल : भूली में बीसीसीएल देगी 600 एकड़ जमीन, निगम बनाएगा 60 हजार घर

धनबाद.  शहरी क्षेत्र के भू-धंसान एवं अग्नि प्रभावित क्षेत्रों में रहने वाले परिवारों को भूली में बीसीसीएल की जमीन पर बसाया जाएगा। सभी विस्थापितों को नगर निगम बीसीसीएल के सहयोग से आवास उपलब्ध कराएगा। भूली में आवास का निर्माण प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत किया जाएगा। शनिवार को बीसीसीएल के कार्मिक निदेशक आरएस महापात्र की मौजूदगी में हुई जेआरडीए की बैठक में इस पर सहमति बनी। शहरी क्षेत्र में रहने वाले लोगों को भूली में बसाने के लिए बीसीसीएल 600 एकड़ जमीन देने पर भी राजी हो गया है। बीसीसीएल डीपी ने नगर निगम को तीन दिनों के अंदर प्रस्ताव उपलब्ध कराने को कहा है। बीसीसीएल से जमीन मिलने की सहमति मिलने के साथ ही नगर निगम ने प्रस्ताव तैयार करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

भूली निवासियों को प्राथमिकता : जर्जर घर ध्वस्त कर दिए जाएंगे नए आवास
भूली में फिलहाल 6 हजार आवास हैं। बैठक में निर्णय हुआ कि जर्जर आवासों को तोड़ कर नए आवास बनाए जाएंगे, आवास आवंटन में भूली के लोगों को प्राथमिकता दी जाएगी। सभी छह हजार आवासों में रह रहे लोगों को नया आवास उपलब्ध कराया जाएगा और उनके पुराने आवासों को ध्वस्त कर वहां नया आवास बनाया जाएगा।

 

निगम को करनी है पुनर्वास की व्यवस्था
शहरी क्षेत्र में रहने वाले विस्थापितों के पुनर्वास की व्यवस्था निगम को करनी है। इस साल फरवरी में दिल्ली में हुई हाई पावर कमेटी की बैठक में शहरी क्षेत्र में रहने वाले विस्थापितों के पुनर्वास की जिम्मेवारी नगर निगम को सौंपने पर सैद्धांतिक रूप से सहमति बन गई है।

 

स्मार्ट सिटी की तर्ज पर होगा भूली में निर्माण
भूली में विस्थापितों को स्मार्ट सिटी के तर्ज पर बसाया जाएगा। इसके लिए जी प्लस थ्री मॉडल का अपार्टमेंट का निर्माण किया जाएगा। एक अपार्टमेंट में कम से कम 40 से 50 फ्लैट का निर्माण किया जाएगा। इस स्मार्ट सिटी में सभी तरह की सुविधाएं उपलब्ध होगी। पानी, बिजली से लेकर सड़क, पार्क, मंदिर, मस्जिद और प्राइमरी स्कूल की सुविधा भी होगी।

 

सर्वे : निगम क्षेत्र में 40,441 विस्थापित
निगम क्षेत्र में किए गए सर्वे के अनुसार शहरी क्षेत्र में कुल विस्थापितों की संख्या 40441 है। इनमें अवैध कब्जाधारी भी शामिल हैं। जेआरडीए के अधिकारियों के अनुसार मार्च से लेकर मई माह तक सभी वार्डों में सर्वे किया गया था, जिसके आधार पर 40441 परिवारों को चिह्नित किया गया है, ये वो लोग हैं, जो असुरक्षित क्षेत्र में रह रहे हैं।

 

भूली में बीसीसीएल के सहयोग से 60 हजार से अधिक आवासों का निर्माण किया जाएगा। 600 एकड़ जमीन देने पर बीसीसीएल राजी हो गया है। अग्नि प्रभावित क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को जेआरडीए की पुनर्वास नीति के तहत बसाया जाएगा, जबकि गैर बीसीसीएल कर्मियों को आवास के लिए 3 लाख 64 हजार रुपए देने होंगे। सवा दो लाख लाभुकों को निगम की ओर से दिया जाएगा। – चंद्रशेखर अग्रवाल, मेयर

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments