Monday, September 27, 2021
Homeराज्यमानसून : कांवड़ यात्रा से पहले उत्तर हरियाणा में झमाझम बरसात, सावन...

मानसून : कांवड़ यात्रा से पहले उत्तर हरियाणा में झमाझम बरसात, सावन कल से

हरियाणा. बुधवार से सावन माह शुरू हो रहा है। कांवड़ यात्रा से पहले प्रदेश पर मॉनसून मेहरबान होने लगा है। पिछले 2 दिन में उत्तर हरियाणा के अम्बाला, पंचकूला, यमुनानगर, कुरुक्षेत्र, करनाल व सोनीपत में अच्छी बारिश हुई है। अन्य जिलों में भी हल्की से मध्यम बारिश दर्ज की गई है। रविवार शाम 5 बजे से सोमवार शाम 5 बजे तक 24 घंटे में प्रदेश में औसतन 10 मिमी. बारिश हुई। इससे बारिश की 6% कमी पूरी हुई।

 

मॉनसून सीजन (1 जून से 30 सितंबर) में 460 मिमी. बारिश सामान्य मानी जाती है। 15 जुलाई तक यह 118.2 मिमी. होनी चाहिए। जबकि 57.2 एमएम हुई है। अभी 61 मिमी. (52%) की कमी है। हालांकि, अम्बाला व यमुनानगर में बारिश का आंकड़ा सामान्य पर पहुंच गया है। वहीं, अम्बाला में दिन का पारा 28.9 डिग्री रहा, जो सामान्य से 5 डिग्री कम है। यमुनानगर के गांव सारन में मकान की कच्ची छत गिरने से 11 वर्षीय मनप्रीत व उसके भाई 8 वर्षीय रजत की मलबे में दबकर मौत हो गई।

 

कारण: हिमालय की फुट हिल्स में फंसा मॉनसून हुआ सक्रिय 
पंजाब से नागालैंड तक हरियाणा होते हुए टर्फ बना था। इसी से हिमालय की फुट हिल्स (निचली पहाड़ियां) मंे फंसा माॅनसून हरियाणा के उत्तरी हिस्से में सक्रिय हुआ। अम्बाला में 1 जून से 15 जुलाई तक 246 एमएम बारिश सामान्य मानी जाती है। यह पूरी हो चुकी है। यमुनानगर में 234 एमएम बारिश होती है, जो 235 एमएम हुई है। बाकी जिलों में अभी 20 से 93% कमी है।

 

असर: प्रदूषण कम हुआ, बुवाई तेज होगी

बारिश से गर्मी से राहत मिली है। धूल का गुबार धुल गया। प्रदूषण में कमी आई। पानीपत में 11 जुलाई को पीएम2.5 की मात्रा 349 पहुंच गई थी, जो साेमवार को 46 रह गई। {धान समेत खरीफ फसलों की बुवाई तेज होगी।

 

आगे: कुछ इलाकों में 16 से 18 जुलाई तक भारी बारिश की चेतावनी दी गई है।

 

24 घंटे में कहां कितनी वर्षा

अम्बाला100.1
कुरुक्षेत्र71.3
यमुनानगर52.2
करनाल41.5
झज्जर22.0
पंचकूला8.2
चरखी दादरी6.0
सिरसा6.0
फतेहाबाद5.0
हिसार2.6
पानीपत2.0

(बारिश मिलीमीटर में)

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments