Friday, September 24, 2021
Homeविश्वबाइडन को तालिबान पर नहीं भरोसा, अभी तक काबुल से इतने अमेरिकी...

बाइडन को तालिबान पर नहीं भरोसा, अभी तक काबुल से इतने अमेरिकी नागरिक किए जा चुके एयरलिफ्ट

अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे के बाद से हालात लगातार बिगड़ रहे हैं। ऐसे में अब यहां पर फंसे लोगों को बाहर निकालने के लिए दुनिया के तमाम देश जुटे हुए हैं। वहीं तालिबान को मान्यता दिलाने के लिए चीन और पाकिस्तान लगे हैं, लेकिन अमेरिका को आतंकवादी समूह पर बिल्कुल भी भरोसा नहीं है। हालांकि, अमेरिका भी लगातार काबुल से लोगों को एयरलिफ्ट कर रहा है।

जो बाइडन को तालिबान पर बिल्कुल भी भरोसा नहीं है। व्हाइट हाउस में अपने संबोधन में खुद अमेरिकी राष्ट्रपति ने इसकी जानकारी दी है। साथ ही बताया कि काफी संख्या में काबुल से लोगों को एयलिफ्ट किया जा रहा है।

तालिबान को मान्यता दिलाने पर बोले, जो बाइडन

अेमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने तालिबान को मान्यता दिलाने पर कहा कि उन्हें उस पर भरोसा नहीं है। व्हाइट हाउस से राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में जो बाइडन ने कहा,’ अगर तालिबान, अफगानिस्तान के लोगों पर शासन करना चाहता है तो उन्हें आर्थिक सहायता, व्यापार और कई तरह की चीजों के मामले में अतिरिक्त मदद की आवश्यकता होगी, लेकिन मुझे किसी पर भरोसा नहीं है। तालिबान को एक मौलिक निर्णय लेना है’

क्या तालिबान अफगिस्तान की भलाई के लिए कर रहा प्रयास

इसके साथ ही राष्ट्रपति ने प्रश्न करते हुए कहा कि ‘क्या तालिबान अफगानिस्तान के लोगों की भलाई के लिए प्रयास करने जा रहा है, जो कि 100 वर्षों से किसी एक समूह ने कभी नहीं किया है? यदि वह करता है तो उसे आर्थिक सहायता, व्यापार और कई तरह की चीजों के मामले में अतिरिक्त मदद की आवश्यकता होगी’।

काबुल से निकासी अभियान के बीच आया राष्ट्रपति का बयान

इसके साथ ही राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा कि तालिबान ने जब से अफगानिस्तान पर कब्जा किया तब से लेकर समूह की तरफ से कहा जा रहा है कि वह किसी के साथ भी भेदभाव नहीं करेंगे और साथ ही मांग कर रहे हैं कि उन्हें अन्य देशों द्वारा मान्यता मिल जाए। इसके अलावा तालिबान ने अन्य देशों से कहा कि वे अपने राजनयिक को स्थानांतरित करना नहीं चाहते हैं। इन सभी बातचीत में तालिबान ने अमेरिकी बलों पर कोई कार्रवाई नहीं है। बता दें कि राष्ट्रपति की तरफ से यह टिप्पणी ऐसे समय में आई है, जब देश अपने नागरिकों को काबुल हवाई अड्डे के माध्यम से अफगानिस्तान से निकाल रहे हैं।

जुलाई के अंत तक अमेरिका ने काबुल से निकाले 30,000 लोग

अमेरिकी सेना ने 14 अगस्त से अब तक अफगानिस्तान से जुलाई के अंत तक लगभग 30,000 लोगों को निकाला है। बाइडन ने कहा कि वह 31 अगस्त की समय सीमा से आगे अफगानिस्तान में निकासी मिशन के विस्तार के संबंध में अपने सैन्य अधिकारियों के साथ चर्चा कर रहे हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अमेरिका ने काबुल एयरपोर्ट के आसपास सेफ जोन को बढ़ा दिया है। उन्होंने कहा कि हमने हवाई अड्डे और सुरक्षित क्षेत्र के आसपास पहुंच बढ़ाने सहित कई बदलाव किए हैं’।

बता दें कि इससे पहले शुक्रवार को जो बाइडन ने अफगानिस्तान से निकासी को इतिहास में अब तक का सबसे कठिन और सबसे बड़ा एयरलिफ्ट करार दिया था। उन्होंने सभी अमेरिकियों और सहयोगियों को युद्धग्रस्त देश से बाहर निकालने का आश्वासन भी दिया था

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments