Sunday, September 19, 2021
Homeव्यापारआर्थिक सर्वे से पहले बाजार में बड़ी गिरावट, सेंसेक्‍स 41 हजार के...

आर्थिक सर्वे से पहले बाजार में बड़ी गिरावट, सेंसेक्‍स 41 हजार के नीचे बंद

  • शुक्रवार को निर्मला सीतारमण आर्थिक सर्वे पेश करेंगी
  • देश के आर्थिक हालात को देखते हुए सर्वे काफी अहम

देश का आम बजट शनिवार यानी 1 फरवरी को पेश होने वाला है. बजट से पहले 31 जनवरी यानी कल आर्थिक सर्वे पेश किया जाएगा. इस सर्वे को वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण पेश करेंगी. देश के आर्थिक हालात को देखते हुए आर्थिक सर्वे काफी अहम माना जा रहा है.

आर्थिक सर्वे से पहले भारतीय शेयर बाजार में निराशा का माहौल है. यही वजह है कि सप्‍ताह के चौथे कारोबारी दिन सेंसेक्‍स और निफ्टी बड़ी गिरावट के बाद बंद हुए. कारोबार के अंत में सेंसेक्स करीब 285 अंकों की गिरावट के साथ 40,913.82 के स्तर पर रहा तो वहीं, निफ्टी भी 94 अंक टूटकर 12,035.80 के स्तर पर बंद हुआ.

बजाज ऑटो का बढ़ा मुनाफा, शेयर में तेजी

कारोबार के अंत में बजाज ऑटो के शेयर में 1.48 फीसदी तक की तेजी आई. दरअसल, बजाज ऑटो को दिसंबर तिमाही में 8 फीसदी से अधिक का मुनाफा हुआ है. यही वजह है कि शेयर में तेजी आई है. बता दें कि 31 दिसंबर 2019 को समाप्त तीसरी तिमाही में मुनाफा 8.33 फीसदी बढ़कर 1,322.44 करोड़ रुपये पर पहुंच गया. एक साल पहले की इसी तिमाही में कंपनी को 1,220.77 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था. वहीं बजाज ऑटो के राहुल बजाज एग्जीक्यूटिव चेयरमैन का पद छोड़ेंगे  उनका कार्यकाल 31 मार्च 2020 को खत्म हो रहा है. इसके बाद राहुल बजाज नॉन एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर की भूमिका में आ जाएंगे.

शुरुआती 3 दिन क्‍या रहा हाल?

सप्‍ताह के शुरुआती दो कारोबारी दिन- सोमवार और मंगलवार को सेंसेक्‍स 645 अंक तक लुढ़का था. वहीं निफ्टी में करीब 194 अंक तक की गिरावट आई. हालांकि बुधवार को सेंसेक्स 231.80 अंकों की तेजी के साथ 41,198.66 पर और निफ्टी 73.70 अंकों की तेजी के साथ 12,129.50 पर बंद हुआ.

गुरुवार को क्‍यों आई गिरावट?

दरअसल, यूरोपीय संघ (ईयू) की संसद ने ब्रेक्जिट समझौते को मंजूरी दे दी है. इस मंजूरी के बाद अब ब्रिटेन यूरोपीय संघ से बाहर निकल जाएगा. इस खबर का असर भारतीय शेयर बाजार पर दिखा. बता दें कि यूरोपीय संसद में ब्रेक्‍जिट समझौता के पक्ष में 621 मत पड़े तो खिलाफ में 49 वोट पड़े. यह ब्रेक्‍जिट समझौता ब्रिटिश प्रधान मंत्री बोरिस जॉनसन ने पिछले वर्ष यूरोपीय संघ के अन्य 27 नेताओं के साथ बातचीत करके किया था. ब्रिटेन में जून 2016 में यूरोपीय संघ से निकलने पर निर्णय के लिए जनमत संग्रह हुआ था.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments