Saturday, September 18, 2021
Homeउत्तर-प्रदेशसफाई के महाअभियान पर BJP पार्षद ने उठाए सवाल

सफाई के महाअभियान पर BJP पार्षद ने उठाए सवाल

75वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर नगर निगम ने 75 घंटे का सफाई का महाअभियान छेड़ा है। लेकिन इसको लेकर अब विवाद खड़ा हो गया है। इसमें उन सड़कों को शामिल किया गया है, जहां नगर निगम रोज सफाई करता है।

शुरू हो गई राजनीति

भाजपा के वरिष्ठ पार्षद व पूर्व उपसभापति नवीन पंडित ने महाअभियान को लेकर दिखावा बताया है। नगर आयुक्त को बुधवार को ज्ञापन दिया है। बता दें कि नगर निगम में इस समय भाजपा की महापौर और सबसे ज्यादा पार्षद भी भाजपा के हैं। ऐसे में वरिष्ठ पार्षद की नाराजगी के बाद राजनीति शुरू हो गई है।

पार्षद ने नगर आयुक्त को दिया शिकायती पत्र।
पार्षद ने नगर आयुक्त को दिया शिकायती पत्र।

गलियां गंधा रही हैं

नवीन पंडित ने बताया कि गलियों में कूड़े और गंदगी का अंबार लगा हुआ है। वार्डों से 10-10 सफाई कर्मी लेकर अभियान में लगाए गए हैं। महाअभियान पूरी तरह से दिखावा है। मुख्य सड़कों पर सफाई अभियान चलाया जा रहा है। जो अपने आप में सवाल खड़ा करता है। क्या नगर निगम मुख्य सड़कों की रोजाना सफाई नहीं करता है, जो अभियान चलाकर सफाई कराई जा रही है।

वार्डों में नहीं हो पा रही सफाई

पार्षद ने अफसरों पर आरोप लगाते हुए कहा है कि कोविड में सैनेटाइजिंग टीम के नाम पर 2-2 कर्मी ले लिए गए। अभियान में 10-10 कर्मी वार्ड से ले लिए। एक वार्ड में जहां सफाई कर्मी पहले ही कम हैं। इसके अलावा 12 कर्मी ले लेने से सफाई व्यवस्था चरमरा गई है। नागरिक वार्डों में रहते हैं सड़कों पर नहीं। वार्ड में आउटसोर्स कर्मियों के भरोसे सफाई व्यवस्था चल रही है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments