Sunday, September 26, 2021
Homeदिल्लीकैबिनेट : धान के समर्थन मूल्य में 65 रु. का इजाफा, सामान्य...

कैबिनेट : धान के समर्थन मूल्य में 65 रु. का इजाफा, सामान्य धान का एमएसपी 1815 रु. प्रति क्विंटल हुआ

नई दिल्ली. सरकार ने मौजूदा वित्त वर्ष (2019-20) के लिए खरीफ की 13 फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) को मंजूरी दे दी है। सीजन की प्रमुख फसल धान का समर्थन मूल्य 65 रुपए प्रति क्विंटल बढ़ाया गया है। सामान्य धान का रेट 1 हजार 750 रुपए से बढ़कर 1 हजार 815 रुपए और ए-ग्रेड का धान 1 हजार 770 रुपए से बढ़कर 1 हजार 835 रुपए हो गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में बुधवार को हुई आर्थिक मामलों की कैबिनेट कमेटी की बैठक में समर्थन मूल्यों को मंजूरी दी गई। सामान्य किस्म के धान के समर्थन मूल्य में पिछले साल 200 रुपए का रिकॉर्ड इजाफा किया गया था।

सोयाबीन का एमएसपी 311 रुपए बढ़ा

फसल2018-19 में समर्थन मूल्य (रु.)2019-20 में समर्थन मूल्य (रु.)बढ़ोतरी (रु.)लागत से कितना ज्यादा (%)
सामान्य धान1,7501,8156550
ए-ग्रेड धान1,7701,83565
तुअर5,6755,80012560
मूंग6,9757,0507550
उड़द5,6005,70010064
तिल6,2496,48523650
रामतिल5,8775,9406350
मूंगफली4,8905,09020050
ज्वार हाइब्रिड2,4302,55012050
ज्वार मालदानी2,4502,570120
बाजरा1,9502,0005085
रागी2,8973,150253
मक्का1,7001,7606050
सोयाबीन3,3993,71031150
कपास मध्यम रेशा5,1505,25510550
कपास लंबा रेश5,4505,550100
सूरजमुखी बीज5,3885,65026250

उत्पादन लागत में ये खर्च शामिल 
सरकार के मुताबिक इसमें परिवार के लोग और श्रमिकों की मजदूरी, मवेशी या मशीन का खर्च, लीज पर ली गई जमीन का किराया, बीज, खाद और सिंचाई का खर्च शामिल है। सरकार ने पिछले साल बजट में कहा था कि उत्पादन लागत का कम से कम 1.5 गुना एमएसपी तय किया जाएगा। कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का कहना है कि उसी सिलसिले को आगे बढ़ाते हुए इस साल भी एमएसपी तय किए गए हैं। सरकार ने ए-ग्रेड धान, ज्वार मालदानी और कपास लंबा रेशा के लिए लागत पर रिटर्न के आंकड़े नहीं दिए हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments