गलवन घाटी में हुई हिंसक झड़प में 20 भारतीय सैनिक शहीद हो गए थे। गलवन में हुई हिंसक झड़प के कई महीने बाद अमेरिका ने अपनी एक रिपोर्ट ‘यूएस-चाइना इकोनॉमिक एंड सिक्योरिटी रिव्यू कमिशन’ में कहा है कि कुछ सबूतों से पता चलता है कि चीनी सरकार ने गलवन घाटी में हुई हिंसक झड़प की योजना बनाई थी। रिपोर्ट में कहा गया है कि ऐसा संभावित रूप से घातक घटनाओं के लिए किया गया है।

गौततलब है कि चीन और भारत की सेनाओं के बीच पूर्वी लद्दाख में LAC के पास मई की शुरुआत से ही गतिरोध जारी है। एलएसी के पास स्थिति मध्य जून में उस वक्त खराब हो गई थी, जब गलवन घाटी में दोनों देशों की सेनाएं आमने-सामने आ गईं। 15-16 जून को सामने आई हिंसक घटना में बीस भारतीय सैनिक शहीद हो गए थे। यह पूर्वी लद्दाख में डी-एस्केलेशन के दौरान चीनी सैनिकों द्वारा एकतरफा रूप से यथास्थिति को बदलने के प्रयास के परिणामस्वरूप हुआ।