Monday, September 20, 2021
Homeउत्तराखंडउत्तराखंड : मसूरी विंटर लाईन कार्निवाल का रंगारंग आगाज

उत्तराखंड : मसूरी विंटर लाईन कार्निवाल का रंगारंग आगाज

मसूरी में 25 से 30 दिसंबर तक होने वाले मसूरी विंटर लाईन कार्निवाल का आगाज हो गया। बुधवार को लंढौर स्थित सर्वे मैदान में परेड को जिलाधिकारी सी रवि शंकर,क्षेत्रीय विधायक गणेश जोशी व पालिकाध्यक्ष अनुज गुप्ता ने संयुक्त रूप से रिबन काटकर व हरी झंडी लहराकर रवाना किया।  परेड में उत्तराखंड विशेष पुलिस बल के बैंड के साथ ही जौनपुर कला मंच, मसूरी गल्र्स इंटर कालेज, लोक कला मंच, स्पर्श, सनातन धर्म गर्ल्स इंटर कालेज, जूनियर हाई स्कूल कुलड़ी, पंजाब, हिमाचल, कुमाउं, राजस्थान, शिशु मंदिर, एसएएफई मसूरी, आकाशवाणी क्लब, हंसा नृत्य नाटक देहरादून, गढवाल महासभा, जम्मू कश्मीर, दशमेश गतका पार्टी सहित बीएसएफ व पीएसी की टीमों ने भी प्रतिभाग किया व अपनी कला से दर्शकों का मन मोह लिया। शोभायात्रा में लगभग 30 झांकिया शामिल रही।

कार्निवाल परेड सर्वे मैदान से शुरू होकर लंढोर बाजार, कुलडी, मालरोड़ होते हुए गांधी चौक तक गई जिसमें रास्ते भर बड़ी संख्या में पर्यटकों ने कार्निवाल परेड में उतराखंड सहित विभिन्न राज्यों के लोक रंगों को देखा व जमकर उनके साथ नृत्य कर यहां की संस्कृति के मुरीद हो गये। कार्निवाल परेड में बीएसएफ का साइकिल दस्ता विशेष आकर्षण का केंद्र रहा। वहीं विभिन्न संस्थाओं द्वारा समाज की कुरीतियों व बुराइयों के प्रति जनता को जागरूक करने के लिए झांकिया व नाटकों की प्रस्तुति भी की गई जिसमें नशे के खिलाफ, पेडों के काटने के खिलाफ सहित अनेक संदेशप्रद प्रस्तुतियां रास्तेंभर दी गई।  वहीं कुमाउ से आयी टीम द्वारा पेश किया गया छोलिया नृत्य शोभायात्रा के दौरान सबसे ज्यादा आक्रर्षण का केंद्र बना रहा। वहीं इस दौरान शहर के विभिन्न स्कूलों व लोकल संस्थाओं व संस्कृति विभाग से आयी टीमों द्वारा एक से बढकर एक गढवाली गीत व नृत्यों की शानदार प्रस्तुती पेश की गई।

मसूरी में 25 से 30 दिसंबर तक होने वाले मसूरी विंटर लाईन कार्निवाल का आगाज हो गया। 
वहीं डोईवाला से आई बीएसएफ की टीम द्वारा सर्वे मैदान से लेकर किताबघर तक साईकिल रैली निकाली गई। वहीं शोभायात्रा में बाहर से आये पर्यटकों ने भी बढचढ कर हिस्सा लिया व जमकर थिरके। वहीं गढवाल महासभा मसूरी द्वारा गढवाली लोकनृत्य की शानदार प्रस्तुती पेश की गई। इससे पूर्व शोभायात्रा का उद्घाटन करने पर विधायक गणेश जोशी ने कहा कि कार्निवाल विगत सात वर्षो से आयोजित किया जा रहा है और लगातार इसका लाभ मसूरी ही नहीं उत्तराखंड को मिल रहा है। इसका मुख्य उददेश्य शीतकाल में प्र्यटन को बढावा देने के साथ रोजगार देना है। इस मौके पर जिलाधिकारी सी रविशंकर ने कहा कि कार्निवाल को इस बार भव्य तरीके से शुरू किया जा रहा है। कार्निवाल परेड में करीब बीस से अधिक क्षेत्रों की सस्कृति दिखाई जा रही है। इसका उददेश्य उत्तराखंड की लोक संस्कृति को देश विदेश में पहचान दिलाना है कार्निवाल का अर्थ यही है कि यहां की अपनी संस्कृति को प्रोत्साहन देना है। वहीं कार्निवाल परेड के माध्यम से सामाजिक बुराईयों के प्रति जागरूक करने का प्रयास भी किया जा रहा है। इस मौके पर पालिकाध्यक्ष अनुज गुप्ता ने कहा कि कार्निवाल से निश्चित ही मसूरी को लाभ होगा व इससे पर्यटन को भी बढावा मिलेगा।  वहीं गांधी चौक सांय 5 बजे करीब मसूरी विंटर लाईन कार्निवाल का उद्घाटन प्रदेश के कृषि मंत्री सुबोध उनियाल ने किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि कार्निवाल का मेन उददेश्य पर्यटन को बढावा देना है प्रदेश सरकार भी इस दिशा में कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि इससे निश्चित ही पर्यटन को पूरे प्रदेश में बढा़वा मिलेगा और यहां के लोगों को रोजगार भी मिलेगा।

सर्वे मैदान में 11 बजे पहुंची विभिन्न राज्यों की टीमों को तीन घंटे तक जिलाधिकारी व क्षेत्रीय विधायक गणेश जोशी का इंतजार करना पड़ा,जबकि शोभायात्रा का शुभारंभ किये जाने का समय 11 बजे तय किया गया था,लेकिन जिलाधिकारी व विधायक के देरी में पहुंचने के कारण कलाकारों को ठंड में करीब तीन घंटे तक उनके आने का इंतजार करना पड़ा,उनके पहुंचने के बाद सवा तीन बजे करीब शोभायात्रा को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया। इस दौरान बाहर से आये कलाकारों के साथ ही स्थानीय कलाकारों में काफी नाराजगी देखी गई। कलाकारों का कहना था कि अगर शोभायात्रा का तीन बजे की शुभारंभ किया जाना था तो हमें यहां पर सुबह 11 बजे क्यों बुलाया गया। सर्वे मैदान में शोभायात्रा को देरी से रवाना किये जाने से मालरोड़ व पूर्व की भांति कलाकार अपनी कला का प्रर्दशन नहीं कर पाये,क्यों कि सांय पांच बजे किताबघर चौक पर विंटर लाईन कार्निवाल का आगाज किया जाना था। इस दौरान शोभायात्रा को देखने के लिए मसूरी सहित दूर दराज के क्षेत्रों से पहुंचे लोगों को मायूस होकर लौटना पड़ा। इस मौके पर शोभायात्रा को देखने के लिए जोड़ी गांव से आयी एक महिला ने बताया कि वह 12 बजे करीब मसूरी पहुंची थी लेकिन 3 बजे तक भी शोभायात्रा पिक्चर पैलेस नहीं पहुंची। चार बजे करीब झांकिया पिक्चर पैलेस पहुंची लेकिन झांकियां इतनी तेज चल रही थी कि किसी को भी अपनी कला को दिखाने का मौका नहीं मिला। उन्होंने कहा कि इससे पहले तो ऐसा कभी नहीं हुआ।

carnival
मसूरी में 25 से 30 दिसंबर तक होने वाले मसूरी विंटर लाईन कार्निवाल का आगाज हो गया। 
इस मौके पर एडीएम रामजी शरण, एसडीएम अरूण चौधरी, एसडीएम सदर गोपाल राम बिनवाल, एसडीएम दीप्ति सिंह, एसडीएम अर्पूवा,  संदीप साहनी, आरएन माथुर, संजय अग्रवाल, अजय भारद्वाज, पालिका सभासद गीता कुमाई, जबसीर कौर, सरिता, सरिता पंवार,मनीषा खरोला, दर्शन रावत, प्रताप पंवार, सुभाषिनी बर्तवाल,संतोष आर्य अनीता सक्सेना, पुष्पा पडियार,व्यापार संघ अध्यक्ष रजत अग्रवाल, महासचिव जगजीत कुकरेजा, पालिका अधिशासी अधिकारी एमएल शाह, सहित बड़ी संख्या में शहर के जनप्रतिनिधि व शहरवासी मौजूद रहे।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments