देश में कोरोना के मामले 2 लाख के पार – पहले 50 हजार मामले 98 दिन में सामने आए थे, पिछले 50 हजार मामले महज 7 दिन में आए; पर दूसरे देशों के मुकाबले यह रफ्तार फिर भी धीमी

0
36
  • अमेरिका में सबसे तेज 72 दिनों में 2 लाख मामले हुए, भारत में इतने मामले होने में 125 दिन लगे
  • कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित 7 देशों में स्पेन का रिकवरी रेट हाई, भारत तीसरे नंबर पर
  • भारत दुनिया का सातवां देश, जहां कोरोना के मामले 2 लाख से ज्यादा हो गए

सीएन 24

नई दिल्ली. देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या मंगलवार को 2 लाख के पार हो गई। अब भारत दुनिया का 7वां ऐसा देश है, जहां 2 लाख से ज्यादा लोग इस बीमारी की चपेट में आ चुके हैं। 30 जनवरी को देश में संक्रमण का पहला मामला सामने आया था। इसके 98 दिनों बाद यानी 6 मई को यह संख्या बढ़कर 50 हजार हुई। इसके बाद रफ्तार में तेजी आई। फिर अगले 27 दिनों में संक्रमितों का आंकड़ा दो लाख के पार हो गया।

शुक्र है सबसे ज्यादा आबादी होने के बावजूद अन्य देशों के मुकाबले यह रफ्तार काफी धीमी है। अमेरिका में सबसे तेज 72 दिनों में दो लाख से ज्यादा लोग कोरोना पॉजिटिव हो गए थे। भारत में यह आंकड़ा 125 दिन में पहुंचा।
देश में कोरोना के मामले 1.5 लाख से 2 लाख होने में सबसे कम 7 दिन लगे

मामलेकितने दिनकिस तारीख को
50 हजार986 मई
50 हजार से 1 लाख0826 मई
1.5 लाख से 2 लाख072 जून

* देश में पहला संक्रमित 30 जनवरी को मिला था।
* सोर्स: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय और covid19india.org

अब हर 7 दिन में 50 हजार मामले आ रहे
चिंता की बात यह है कि देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या अब तेजी से बढ़ने लगी है। 6 मई को देश में कोरोना का आंकड़ा 50 हजार पर था। मतलब संक्रमण की शुरुआत से लेकर 50 हजार मामले होने तक 98 दिन लगे। लेकिन इसके बाद रफ्तार तेज हो गई। अगले 50 हजार मामले महज 12 दिनों में सामने आए। इसके बाद हर 7-8 दिन में 50 हजार नए केस सामने आ रहे हैं।

भारत में एक लाख की आबादी में 7.1 संक्रमित
देश में हर 1 लाख की आबादी पर 7.1 लोग संक्रमित मिल रहे हैं। राहत की बात है कि यह संख्या अन्य देशों के मुकाबले काफी कम है। अमेरिका में एक लाख की आबादी पर 431, ब्रिटेन में 494 और इटली में 372 मरीज मिल रहे हैं।

दुनिया में हर एक लाख की आबादी पर 4.1 मौतें, भारत में 0.2 मौतें

देशएक लाख की आबादी पर मौतें
स्पेन59.2
इटली52.8
ब्रिटेन52.1
फ्रांस41.9
अमेरिका26.6
कनाडा15
जर्मनी9.6
ईरान8.5
पूरी दुनिया में4.1
भारत में 0.2

देश में अब तक 95 हजार 852 लोग ठीक हुए
राहत की बात है कि सबसे प्रभावित देशों के मुकाबले भारत का रिकवरी रेट काफी बेहतर है। यहां अब तक 2 लाख मरीजों में से 95 हजार 852 मरीज ठीक हो चुके हैं। रिकवरी रेट 48.3% है। मतलब हर 100 में से 48 मरीज ठीक हो रहे हैं। यूके में सबसे कम रिकवरी रेट है। यहां अभी तक दो लाख मरीजों में केवल 0.001% मरीज ही ठीक हो पाए हैं। स्पेन में सबसे ज्यादा 68.69% रिकवरी रेट है।

स्पेन का रिकवरी रेट सबसे अच्छा, यूके में सबसे कम मरीज ठीक हुए

देशरिकवरी रेटडेथ रेट
स्पेन68.69%9.5%
इटली67.9%14.4%
भारत48.3%2.8%
रूस42.4%1.18%
अमेरिका33.09% 5.74%
ब्राजील39.87%5.67%
यूके0.001%14.1%

* 2 लाख से ज्यादा मामले वाले देश।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here