Friday, September 24, 2021
Homeकेरलाकेरल में कोरोना का कहर, राज्य में वायरस आपदा घोषित

केरल में कोरोना का कहर, राज्य में वायरस आपदा घोषित

केरल (Kerala) में तीसरे छात्र के घातक कोरोना वायरस (Corona Virus) से संक्रमित होने की पुष्टि के बाद सरकार ने इस बीमारी को राज्य आपदा घोषित कर दिया है। देश में घातक कोरोना वायरस संक्रमण को काबू में करने के लिए तैयारियों की समीक्षा, निगरानी और मूल्यांकन के लिए गठित एक मंत्रिसमूह की सोमवार को पहली बैठक हुई। मंत्रिसमूह में केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन, हरदीप पुरी, एस जयशंकर, जी किशन रेड्डी, अश्विनी कुमार चौबे और मनसुख लाल मंडाविया शामिल रहे।

कोरोना के तीन पुष्ट मामले सामने आयी
स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि मंत्रियों को कोरोना वायरस के तीन पुष्ट मामलों के बारे में जानकारी दी गई जो केरल से सामने आये हैं। साथ ही मंत्रियों को कोरोना वायरस संक्रमण को काबू में करने के लिए उठाये गए कदमों के बारे में भी अवगत कराया गया। दूसरी ओर, केरल राज्य की स्वास्थ्य मंत्री (Health Minister) के के शैलजा ने पत्रकारों को बताया कि सरकार ने कोरोना वायरस को ‘राज्य आपदा’ घोषित कर दिया है ताकि इस महामारी को प्रभावी ढंग से नियंत्रित करने के लिए सभी कारूरी कदम उठाएं जाएं।

पीड़ित के स्वास्थ्य की स्थिति संतोषजनक है
राज्य में तीसरे मामले की पुष्टि होने के कुछ घंटे बाद उन्होंने यहां बताया कि इस बाबत निर्णय मुख्य सचिव टॉम जोस की अध्यक्षता वाली राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की शीर्ष समिति की बैठक में लिया गया। सरकारी अस्पताल (Government hospital) की ओर जारी चिकित्सकीय बुलेटिन में कहा गया है कि जिन छात्रों को यह संक्रमण होने की पुष्टि हुई है, उनके स्वास्थ्य की स्थिति ‘संतोषजनक’ है। इससे पहले चीन के वुहान में पढऩे वाले दो छात्रों को त्रिशूर और अलाप्पुझा में कोरोना वायरस से पीड़ित होने का पता चला था।

वुहान कोरोना वायरस का केंद्र है। बुलेटिन में कहा गया है कि आज की तारीख तक, चीन समेत कोरोना वायरस से प्रभावित देशों की यात्रा करने वाले कुल 2,239 लोगों की पहचान की गई है और उन्हें निगरानी में रखा गया है। शैलजा ने कहा कि चीन से लौटे कुछ लोग स्वास्थ्य विभाग से बच रहे हैं। उन्होंने कहा कि वे रिपोर्टिंग नहीं करके जो कर रहे हैं, वह बहुत खतरनाक है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments