Sunday, September 26, 2021
Homeउत्तर-प्रदेशपैसो के लिए 45 वर्षीय युवक से कराई बेटी की शादी

पैसो के लिए 45 वर्षीय युवक से कराई बेटी की शादी

वाराणसी में एक मां द्वारा अपनी बेटी का बाल विवाह कराने का मामला सामने आया है। 15 वर्षीय बेटी का आरोप है कि शादी के बदले में मां को पैसे मिले हैं। किसी तरह से वह पति के चंगुल से छूट कर चाइल्ड लाइन पहुंची तो उसे पुलिस के पास ले जाया गया। प्रकरण को लेकर बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष के निर्देश के आधार पर भेलूपुर थाने में किशोरी की मां और राजस्थान के अलवर निवासी लोकेश पंडित के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

6 जून को जबरन मां ने कराई थी शादी

भेलूपुर थाना अंतर्गत सरायनंदन खोजवां में रहने वाली किशोरी के अनुसार उसके मां-बाप साड़ी के दुकान में काम करते हैं। उसके पिता कैंसर जैसी असाध्य बीमारी की वजह से पीड़ित हैं और फिलहाल अलीगढ़ में रहते हैं। बीती 6 जून को उसकी मां उसकी मर्जी के खिलाफ जबरदस्ती उसकी शादी अलवर के लोकेश पंडित से करा दी। लोकेश के साथ वह नहीं जाना चाहती थी लेकिन उसे जबरन भेजा गया। इसी बीच उसे लोकेश वापस बनारस लेकर आया तो कैंट रेलवे स्टेशन से वह उसे चकमा देकर भाग निकली। लोगों के माध्यम से किसी तरह से वह चाइल्ड लाइन पहुंची और फिर मामला पुलिस तक पहुंचा।

मां नहीं पापा के साथ रहना चाहती हूं

किशोरी ने बताया कि उसे वापस अलवर जाने के लिए उसकी मां और लोकेश उसे डरा-धमका रहे हैं। वह अपने मां के साथ नहीं बल्कि अपने पिता के साथ रहना चाहती है। यदि वह अपनी मां के साथ रहेगी तो फिर वह उसे उसकी अंकल के उम्र के लोकेश के साथ भेज देगी। किशोरी ने बताया कि फिलहाल वह वन स्टॉप सेंटर पर रह रही है लेकिन उसकी मां किसी न किसी माध्यम से उस पर घर चलने का दबाव बनाती है। वह अपनी मां के साथ घर तभी जा सकती है जब वह पुलिस और प्रशासन को आश्वस्त करे कि वह उसे अलवर नहीं भेजेगी।

स्नेहा उपाध्याय, अध्यक्ष, जिला बाल कल्याण समिति।
स्नेहा उपाध्याय, अध्यक्ष, जिला बाल कल्याण समिति।

किशोरी के भविष्य के बारे में सोच कर सौंपेंगे

जिला बाल कल्याण समिति की अध्यक्ष स्नेहा उपाध्याय ने बताया कि किशोरी की काउंसिलिंग की गई है। किशोरी अपने पिता के पास जाना चाहती है और बीमारी की वजह से उनकी स्थिति ठीक नहीं है। किशोरी की मां का कहना है कि वह पैसे लेकर शादी नहीं की है। किशोरी के आरोपों के आधार पर फिलहाल मुकदमा दर्ज करा दिया गया है। किशोरी के बेहतर भविष्य और उसकी सुरक्षा को देखते हुए जल्द ही इस मामले में उचित निर्णय लिया जाएगा।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments