Friday, September 24, 2021
Homeहेल्थमधुमेह के मरीज शुगर कंट्रोल करने के लिए जरूर खाएं Ivy Gourd

मधुमेह के मरीज शुगर कंट्रोल करने के लिए जरूर खाएं Ivy Gourd

कुदंरू की लता उष्णकटिबंधीय देशों में पाई जाती है। इसे कुंदुरी भी कहा जाता है। यह एक लता है, जिसमें कुंदरू फलता है। इसकी सब्जी बनाई जाती है। यह सब्जी देश के सभी हिस्सों में पाई जाती है। कई जगहों पर इसकी खेती की जाती है। यह फल कच्चे में हरे रंग का होता है। वहीं, पक जाने पर सिंदूरी हो जाता है। लोग पके फल का भी सेवन करते हैं। इस सब्जी के कई स्वास्थ्य लाभ हैं। इसके सेवन से न केवल वजन कम होता है, बल्कि मधुमेह और पथरी में भी फायदा मिलता है।

विशेषज्ञों का कहना है कि कुंदरू में फाइबर प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। इसके चलते डॉक्टर्स मोटापे से परेशान लोगों को डाइट में कुंदरू शामिल करने की सलाह देते हैं। वहीं कई शोधों में खुलासा हुआ है कि कुंदरू के सेवन से ब्लड शुगर कंट्रोल में रहता है।

विशेषज्ञों का कहना है कि कुंदरू में फाइबर प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। इसके चलते डॉक्टर्स मोटापे से परेशान लोगों को डाइट में कुंदरू शामिल करने की सलाह देते हैं। वहीं, कई शोधों में खुलासा हुआ है कि कुंदरू के सेवन से ब्लड शुगर कंट्रोल में रहता है। अगर आप मधुमेह के मरीज हैं और शुगर कंट्रोल करना चाहते हैं, तो अपनी डाइट में कुंदरू को जरूर शामिल करें। इसके सेवन से शुगर कन्ट्रोल करने में बड़ी मदद मिलती है। आइए, इसके बारे में सबकुछ जानते हैं-

श्रीलंका में कुंदरू की खपत अधिक है। लोग सदियों से कुंदरू की सब्जी का सेवन करते हैं। इसके लिए कुंदरू पर कई शोध किए गए हैं। इन शोधों में खुलासा हुआ है कि कुंदरू में एंटी-डायबिटिक के गुण पाए जाते हैं। इसके सेवन से इंस्टेंट ब्लड शुगर कंट्रोल होता है।

वहीं, Journal of Diabetes Research में छपी एक शोध में मधुमेह के मरीजों को कुंदरू खाने की सलाह दी गई। इस शोध की मानें तो डाइट में कुंदरू शामिल करने वाले लोगों में खाना खाने के बाद शुगर स्तर कम पाया गया। जबकि, Diabetes Care की शोध में दावा किया गया है कि कुंदरू शुगर कंट्रोल करने में मददगार साबित होता है। मधुमेह के मरीज कुंदरू का सेवन रोजाना कर सकते हैं।

डिस्क्लेमर: स्टोरी के टिप्स और सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन्हें किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर नहीं लें। बीमारी या संक्रमण के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments