Wednesday, September 22, 2021
Homeबिहारछपरा : जिला परिषद अध्यक्ष के जेठ की गोली मारकर हत्या; विरोध...

छपरा : जिला परिषद अध्यक्ष के जेठ की गोली मारकर हत्या; विरोध में सड़क जाम, आक्रोशित लोगों ने पुलिस को खदेड़ा

छपरा. बिहार के छपरा जिले में बेखौफ अपराधियों ने जिला परिषद अध्यक्ष मीणा अरुण के जेठ की गोली मारकर हत्या कर दी। घटना मढ़ौरा स्टेशन के रेलवे क्रॉसिंग के पास की है। मृतक का नाम अर्जुन सिंह है। दिनदहाड़े हुई हत्या के विरोध में गुस्साए लोगों मढ़ौरा-छपरा मुख्य मार्ग को जाम कर दिया। लोगों ने रेफरल अस्पताल में भी जमकर हंगामा किया। मौके पर पहुंची पुलिस को लोगों ने खदेड़ दिया और सड़क पर आगजनी की।

वारदात के संबंध में बताया जा रहा है कि जिला परिषद अध्यक्ष मीणा अरुण के जेठ अर्जुन सिंह रविवार सुबह दूकान जा रहे थे। इसी दौरान बाइक सवार अपराधियों ने उनको गोली मार दी। स्थानीय लोगों ने आनन फानन में उन्हें रेफरल अस्पताल में भर्ती कराया जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। पुलिस का कहना है कि अब तक अपराधियों के बारे में पता नहीं चल सका है। परिजनों के बयान पर अज्ञात अपराधियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है और मामले की जांच की जा रही है।

दारोगा हत्याकांड की मुख्य आरोपी है जिला परिषद अध्यक्ष, चार दिन पहले मिली है जमानत
बता दें कि जिला परिषद अध्यक्ष मीणा अरुण पिछले साल 20 अगस्त को मढ़ौरा में हुए दारोगा हत्याकांड की मुख्य आरोपी है। चार दिन पहले पटना हाईकोर्ट ने मीणा अरुण को जमानत दी है। इस मामले में मृतक अर्जुन सिंह का बेटा सुबोध सिंह भी नामजद है जो अभी फरार चल रहा है। मीणा का पति अरुण कुमार सिंह जेल में बंद है।

क्या है दारोगा हत्याकांड?
पिछले साल 20 अगस्त को एसआईटी की टीम छापेमारी के लिए जा रही थी। इसी दौरान मढ़ौरा बाजार में अपराधियों ने पुलिस की गाड़ी पर हमला कर दिया था। हमले में एसआईटी के दारोगा मिथिलेश कुमार शाह और सिपाही फारुख अहमद की मौके पर मौत हो गई थी। अपराधी एके-47 और पुलिस की पिस्टल लेकर मौके से फरार हो गए थे। इस मामले में जिला परिषद अध्यक्ष समेत 14 लोगों को आरोपी बनाया गया था।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments