द्रौपदी मुर्मू आज देश की 15वीं राष्ट्रपति पद के रूप में लेगी शपथ

0
34

द्रौपदी मुर्मू आज देश की 15वीं राष्ट्रपति पद की शपथ लेंगी. संसद भवन के सेंट्रल हॉल में समारोह समारोह आयोजित किया जा रहा है. द्रौपदी मुर्मू आज 15वीं राष्ट्रपति के तौर पर संसद भवन के सेंट्रल हॉल में शपथ लेंगी. सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस एन.वी. रमण मुर्मू को राष्ट्रपति पद और गोपनीयता की शपथ दिलाएंगे और इसके साथ ही वो देश की पहली आदिवासी महिला राष्ट्रपति बन जाएंगी. ओडिशा के छोटे से गांव से देश के सर्वोच्च संवैधानिक पद तक का सफर करने वाली द्रौपदी मुर्मू ठीक सुबह 10 बजकर 15 मिनट में शपथ लेंगी. राष्ट्रपति पद की शपथ लेने के बाद द्रौपदी मुर्मू को 21 तोपों की सलामी दी जाएगी. इसके बाद नई राष्ट्रपति का संबोधन होगा. शपथ ग्रहण समारोह से पहले निवर्तमान राष्ट्रपति और निर्वाचित राष्ट्रपति संसद भवन में पहुंचेंगे.

संसद भवन के सेंट्रल हॉल में समारोह के समापन के बाद द्रौपदी मुर्मू राष्ट्रपति भवन के लिए रवाना होंगी, जहां उन्हें एक इंटर सर्विस गार्ड ऑफ ऑनर दिया जाएगा. राष्ट्रपति के शपथग्रहण समारोह के कई हस्तियां गवाह बनेंगी. जानकारी के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, मंत्रिपरिषद के सदस्य, राज्यों के राज्यपाल, सभी मुख्यमंत्री, राजनयिक मिशनों के प्रमुख, संसद सदस्य और सैन्य अधिकारी इस समारोह में शिरकत होंगे. बिहार के मुख्यमंत्री नीतिश कुमार का शपथ ग्रहण समारोह में आने का प्लान नहीं है. 64 साल की द्रौपदी मुर्मू  ने 21 जुलाई को विपक्षी दलों के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा को हराकर इतिहास रच दिया. चुनाव में मुर्मू को 64 फीसदी से ज्यादा वोट मिले थे और उन्होंने भारी मतों के अंतर से चुनाव जीता. आदिवासी समुदाय से पहली बार राष्ट्रपति बनने के बाद देश के इतिहास में एक नया अध्याय जुड़ गया है. द्रौपदी मुर्मू भारत की पहली नागरिक बनने वाली दूसरी महिला हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here