चंडीगढ़ में 75 दिन में नष्ट होगा 3000 करोड़ का ड्रग्स : अमित शाह

0
24

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने ड्रग्स तस्करी को देश खत्म करने के लिए अभियान चलाया हैं. शाह ने 1 जून से 15 अगस्त तक यानि 75 दिन में ड्रग्स नष्ट करने का निर्देश दिया हैं. इसकी शुरूआत 1 जून से हो गई है. वहीं, शनिवार (31 जुलाई) को केंद्रीय गृहमंत्री ने चंडीगढ़ में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए 31000 किलोग्राम ड्रग्स को नष्ट किया. साथ ही नशीले पदार्थों के नियंत्रण पर नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के सम्मेलन संबोधित किया. इस दौरान शाह ने ड्रग्स के काले कारोबार को करने वालों को कड़ी नसीहत दी. चलिए जानते हैं 75 दिनों में कितने ड्रग्स को नष्ट किया जाएगा.

केन्द्रीय गृह मंत्री के निर्देश पर 1 जून से 15 अगस्त तक 75 दिन के ड्रग्स नष्ट करने के अभियान की शुरुआत हुई. अब तक 1200 करोड़ रुपये मूल्य के 51000 किलोग्राम ड्रग्स नष्ट किए जा चुके हैं.केन्द्रीय गृह मंत्री द्वारा नष्ट किए गए 31000 किलोग्राम ड्रग्स का काला बाज़ार मूल्य क़रीब 800 करोड़ रुपये हैइस प्रकार करीब 2000 करोड़ रुपये की कीमत के 82000 किलोग्राम ड्रग्स नष्ट किए जा चुके हैं.15 अगस्त को 75 दिन के अभियान की खत्म पर इसकी मात्रा एक लाख किलोग्राम पहुंच जाएगी.अनुमानित काला बाजार मूल्य करीब 3000 करोड़ रुपये होगा.अमित शाह ने चंडीगढ़ के पंजाब राजभवन में नशीले पदार्थों के नियंत्रण पर नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के सम्मेलन में शामिल हुए. कार्यक्रम को संबोधित करते हुए शाह ने कहा, ‘ड्रग तस्करी को लेकर जीरो टॉरलेंस की नीति अपनाई गई है.’ इस दौरान उन्होंने कहा, ‘अगर नशे के खिलाफ मिलकर लड़ते हैं तो कुछ वर्षों में देश से ड्रग्स तस्करी को खत्म कर देंगे. साथ ही शाह ने आगे कहा, नशे पर लगाम लगाने के लिए मॉर्डन फॉरेंसिक साइंस ऑफिस खोले गए हैं.’  केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा, ‘देश का युवा नशे की गिरफ्त में फंस चुके हैं, इन्हें इससे बाहर निकलना है. जिसके लिए ड्रग्स तस्करी  पर पूरी तरह से नकेल कसनी होगी. जिसके लिए उसके जड़ तक जाना होगा.’ अमित शाह ने इस दौरान कहा, ‘ड्रग्स शरीर और समाज दोनों को खोखला बना रहा है.’ कंद्रीय गृहमंत्री ने पंजाब का जिक्र करते हुए कहा, ‘सभी लोग कहते हैं, पंजाब में नशा अधिक किया जाता है. जिसके खत्मे के लिए पंजाब (Punjab) को प्रयास तेज करना होगा.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here