Sunday, September 26, 2021
Homeबिहारसंविदा वनकर्मियों के हड़ताल के चलते VTR में पेड़ों की कटाई हुई...

संविदा वनकर्मियों के हड़ताल के चलते VTR में पेड़ों की कटाई हुई तेज

बगहा VTR में तस्करों की चहल कदमी बढ़ गई है। वन क्षेत्रों में हरे पेड़ों की अवैध पातन कर तस्करी लगातार जारी है। वनरंक्षियों से बचकर वन तस्कर आए दिन तस्करी की घटना को अंजाम देने में लगे हुए हैं। हालांकि, वन विभाग तमाम कोशिशों के बाद भी तस्करों की गतिविधियों पर अंकुश लगा पाना नामुमकिन साबित रहा है। 29 जुलाई से संविदा आधारित वनकर्मियों के हड़ताल के कारण जंगल मे गश्ती नहीं हो पा रही है। जिससे वन तस्करो कि गिरोह जंगल मे बेखौफ होकर पेड़ों की कटाई कर रहे हैं।

वीटीआर के वन प्रमंडल दो के वन क्षेत्रों में वाल्मीकिनगर, हरनाटांड़, चिउटांहा, मदनपुर, गोनौली वन क्षेत्र के जंगलों में कुछ हिस्से ऐसे हैं जहां रात तो रात दिन में भी किसी का पहुंच पाना आसान नहीं है। ऐसे इलाकों में तस्करों की चांदी कटती है। वन प्रेमियों की माने तो गंडक नदी के रास्ते से तस्कर लकड़ी को गंतव्य स्थल नेपाल, उत्तर प्रदेश व बगहा पहुंचाते हैं।

वहीं, मदनपुर वन क्षेत्र के जंगलों से वन तस्कर आसानी से पेड़ काट कर वाल्मीकिनगर रेलवे स्टेशन से साइकिल समेत संसाधनो में लोंडिग कर बगहा और उत्तर प्रदेश के खड्डा, सिसवा, गोरखपुर तक लकड़ी पहुंचाई जाती है। इन लकड़ियों में सागवान, शीशम सखुआ शामिल है।

तस्करों ने की थी फायरिंग

वाल्मीकि व्याघ्र परियोजना वन प्रमंडल दो के वाल्मीकि नगर वन क्षेत्र में रविवार की देर रात पेट्रोलिंग पर निकले नियमित वनकर्मी पर गंडक नदी के रास्ते नाव से आए नेपाली वन अपराधियों ने हवाई फायरिंग भी की थी। इसका जवाब वन विभाग में वन संपदा और वन्यजीवों की सुरक्षा में तैनात होमगार्ड के जवानों ने भी हवाई फायरिंग कर दिया था।

नेपाली वन अपराधियों ने नदी में लगी नाव के सहारे भागने में सफल हो गए। वन संरक्षक सह निदेशक हेमकांत राय ने बताया कि अब तक ऐसी सूचना प्राप्त नहीं हुई है। सभी वनक्षेत्रों में तैनात वनकर्मियों से रिपोर्ट मांगी गयी है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments