पहले की सरकारों ने अपनी जेब भरने का काम किया : सीएम योगी

0
11

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को पीलीभीत की जनसभा में सपा, बसपा और कांग्रेस पर बड़ा हमला बोला। कहा,  हमने राष्ट्रवाद की स्थापना का कार्य किया, कई बड़े-बड़े प्रोजेक्ट लेकर आए। जिसमें एयरपोर्ट, परिवहन, सड़क, मेडिकल कालेज, एक्सप्रेस वे शामिल हैं। वहीं अगर देश की आन-बान-शान में किसी गुस्ताखी की तो केन्द्र और प्रदेश की सरकार ने उसका मुंहतोड़ जवाब दिया। चाहे वह धारा 370 हो या अयोध्या में भगवान का भव्य राममंदिर निर्माण का काम करना रहा हो। हमारी डबल इंजन की सरकार गरीबों को महीने में दो बार राशन दे रही है।ये काम पहले की भी सरकारें कर सकती थीं लेकिन यह पैसा पहले सरकार के लोगों की जेब में चला जाता था।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को पीलीभीत की जनसभा में सपा बसपा और कांग्रेस पर बड़ा हमला बोला। कहा हमने राष्ट्रवाद की स्थापना का कार्य किया कई बड़े-बड़े प्रोजेक्ट लेकर आए। जिसमें एयरपोर्ट परिवहन सड़क मेडिकल कालेज एक्सप्रेस वे शामिल हैं।

अब वही पैसा हम लोग उनकी दीवालों से निकाल रहे हैं। नोट की गड्डियां निकल रही है। आप देख रहे हैं कि नोटों का पहाड़ निकल रहा है। यह गरीबों का धन है। आज हम उसी पैसे से उसके घर बनाने, शौचालय बनाने, फ्री वैक्सीन, फ्री राशन देने का काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज देश की आन-बान-शान बचाने वाली सरकार चाहिए आस्था का सम्मान करने वाली सरकार चाहिए। सपा, बसपा और कांग्रेस की सरकार यह सब नहीं करती। उन्होंने कहा कि पीलीभीत का किसान अपनी पुरुषार्थ से एक नई कहानी लिख रहा है। अब यहां दंगा नहीं गन्ने का उत्पादन किया जाता है।

उन्होंने कहा कि पांच वर्ष पहले यूपी की हालत अराजकता, गुंडागर्दी, शोषण और अव्यवस्था के साथ ही पहचान का संकट खड़ा था। किसान आत्महत्या के लिए मजबूर था, बेटियों की सुरक्षा का संकट था और पर्व और त्योहार के पहले इतने दंगे हो जाते थे कि कारोबार करना मुश्किल हो जाता था। हमारी सरकार बनने पर सबसे पहला काम किसानों का 36 हजार करोड़ रुपये का कर्ज माफ किया गया। पर्व और त्योहार में शांति का काम आगे बढ़ता रहा और कोरोना जैसी महामारी में फ्री वैक्सीन, फ्री में उपचार और फ्री का राशन दिया गया।

अब किसी दंगाई की प्रदेश में दंगे करने की हिम्मत नहीं है क्योंकि प्रदेश में दंगा करने पर उनकी पीढ़ियां इसका भुगतान करते करते खप जाएंगी। नौकरी निकलती थी तो महाभारत काल याद आ जाता था एक ही परिवार के चाचा, काका, मामा सभी निकल पड़ते थे वसूली के लिए। साढ़े चार वर्ष में हमनें साढ़े चार लाख नवजवानों को सरकारी नौकरी दी, प्रदेश में उद्योग लगाकर एक करोड़ 61 लाख लोगों को उसमें रोजगार देने की व्यवस्था की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पीलीभीत की बांसुरी जो कभी भगवान श्रीकृष्ण बजाया करते थे उसको फिर से स्थापित करने का काम किया जा रहा है। आप की मुरली को पांच हजार वर्ष पहले भगवान श्रीकृष्ण ने मान्यता दी लेकिन पिछली सरकारों ने इसे भुला दिया था। आज हमने इस उद्योग को ओडीओपी से जोड़ा है। जिससे यहां की परम्परा को आगे बढ़ाया जाएगा। यहां उद्योग की स्थापना की गई है जिससे नौजवानों को रोजगार के लिए बाहर नहीं जाना पड़ेगा यहीं पर उन्हें रोजगार मिला। महिलाओं के उत्थान के लिए कई योजनाएर् चलाई जा रही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here