फतेहाबाद में दुकानों पर गिरा बिजली का खंभा

0
15

हरियाणा के फतेहाबाद में शुक्रवार सुबह ठाकर बस्ती में लगा पुराना बिजली का खंभा अचानक टूट कर गिर गया। बिजली की हाई वोल्टेज करंट की तारें दुकानों के शेड पर गिरी और सड़क पर इतनी नीचे लटक गई कि कोई छोटा बच्चा भी उसे छू ले। संयोग से उस समय बाजार खुला न होने और हल्की बारिश के चलते गली में लोगों की आवाजाही कम थी, अन्यथा बड़ा हादसा संभव था। लोगों में रोष हे कि सूचना के कई घंटे बाद बिजली निगम के कर्मचारी मौके पर आए।

बिजली निगम की लापरवाही

दुकानदारों ने बताया कि ठाकर बस्ती में पुरानी सब्जी मंडी के मोड़ से कुछ ही दूरी पर एक बिजली का खंभा बहुत जर्जर हालत में था। पहले भी वह 3 जगह से क्रैक होने के कारण उसे लोहे के शिकंजे लगकर गिरने से रोका हुआ था। बिजली निगम को सूचना दी गई थी कि ये खंभा कभी भी ढ़ह सकता है। करीब 20 दिन पहले निगम कर्मचारियों ने नया खंभा गाड़ दिया, लेकिन उस पर पुराने खंभे की तारें ट्रांसफर नहीं की गई।

बारिश के कारण घरों में थे लोग

शुक्रवार सुबह बारिश हुई। बाजार के दुकानदार साढ़े 7 बजे दुकानें खोल लेते हैं, लेकिन बारिश के कारण दुकानदार लेट थे। इसी दौरान एक दुकानदार दुकान खोलने लगा तो जोर का धमाका हुआ। उसके पीछे ही यह बिजली का खंभा गिरा था। बिजली की तारें दुकानों के शेड पर गिर गई। इसके साथ ही बिजली गुल हो गई और तारें पूरी लाइन में दुकानों के शटर के आगे झुलने लगी।

दिन में खंभा गिरने से होता बड़ा हादसा

दुकानदारों ने बिजली कर्मचारियों पर लापरवाही का आरोप लगाया है। उन्होंने बताया कि रास्ता काफी संकरा है और अकसर यहां पर बहुत चहल पहल रहती है। कार-बाइक या पैदल लोग हर समय यहां से गुजरते रहते हैं। दुकानों का माल लाने वाले कैंटर यहां खड़े रहते हैं। यदि दिन में यह खंभा गिरता तो बड़ा हादसा होने से कोई रोक नहीं सकता था। क्योंकि तारें बहुत लंबी दूरी तक गिरी हैं और खंभा सामने की दुकान के बिल्कुल शटर तक जाकर गिरा है। सूचना देने के भी तीन घंटों बाद निगम कर्मचारी पहुंचे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here