Tuesday, September 28, 2021
Homeमहाराष्ट्रPA और PS के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय ने दायर की चार्जशीट

PA और PS के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय ने दायर की चार्जशीट

100 करोड़ रुपये की वसूली के मामले में गिरफ्तार महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख के निजी सचिव (पीएस) और निजी सहायक (पीए) संजीव पलांडे एवं कुंदन शिंदे के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने चार्जशीट दायर कर दी है। दोनों पर रिश्वत के पैसों को जमा करने और उन्हें काले से सफेद करने का आरोप है। ED ने दोनों को 26 जून को 12 घंटे की कड़ी पूछताछ के बाद अरेस्ट किया था।

ED इस मामले में मनी लॉन्ड्रिंग एंगल की जांच कर रही है और 5 बार पूछताछ के लिए अनिल देशमुख को समन भेज चुकी है। इसी मामले में ED देशमुख के 12 से ज्यादा ठिकानों पर छापा मार 4.2 करोड़ की संपत्ति जब्त कर चुकी है। देशमुख को इस मामले से लगातार हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट से झटका मिला चुका है। देशमुख की एक याचिका की सुनवाई हाईकोर्ट में लंबित भी है।

अनिल देशमुख के वकील इंद्रपाल ने कहा था कि हमने ईडी से अपील की थी कि जबतक यह मामला सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है हमे पेश होने के लिए बाध्य नहीं किया जाए। फैसला आने के बाद हम खुद ईडी के सामने पेश होंगे। हालांकि अनिल देशमुख सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद भी ईडी के सामने पेश नहीं हुए थे।

शिंदे और पलांडे पर यह है आरोप

सूत्रों के मुताबिक, ED ने अपनी चार्जशीट में कहा है कि देशमुख ने महाराष्ट्र के गृह मंत्री के रूप में अपने पद का दुरुपयोग किया और बर्खास्त सहायक पुलिस निरीक्षक सचिन वझे के माध्यम से मुंबई के कई बार और पब से 4.7 करोड़ रुपये एकत्र किए थे। पैसे वसूलने के काम संजीव पलांडे एवं कुंदन शिंदे के माध्यम से किया गया। सचिन वझे फिलहाल एंटीलिया विस्फोटक बरामदगी केस और मनसुख हिरेन की हत्या मामले में तलोजा जेल में बंद है और NIA इस मामले की जांच कर रही है। उसकी दो जमानत याचिकाएं खारिज हो चुकी हैं।

ऐसे ED के हाथ में आया वसूली का यह मामला

मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह की ओर से पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख पर 100 करोड़ रुपये की वसूली का आरोप लगाया गया था। इसके बाद मामला हाईकोर्ट में गया और कोर्ट ने CBI को आरोपों की जांच के लिए कहा था। इसके बाद CBI ने इसमें FIR दर्ज की और उसकी प्राथमिकी का अध्ययन करने के बाद देशमुख और कुछ अन्य के खिलाफ पिछले मई 2021 में मनी लॉन्ड्रिंग ऐक्ट के तहत ED ने एक आपराधिक मामला दर्ज किया था।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments