Saturday, September 25, 2021
Homeविश्वअप्रैल-जून : फेसबुक ने प्राइवेसी मामले में सेटलमेंट के लिए 13800 करोड़...

अप्रैल-जून : फेसबुक ने प्राइवेसी मामले में सेटलमेंट के लिए 13800 करोड़ रु अलग रखे, इसलिए मुनाफा 49% घटा

कैलिफोर्निया. फेसबुक को अप्रैल-जून तिमाही में 2.62 अरब डॉलर (17,940 करोड़ रुपए) का मुनाफा हुआ है। यह 2018 की जून तिमाही के मुकाबले 49% कम है। उस वक्त 5.1 अरब डॉलर (35,190 करोड़ रुपए) का लाभ हुआ था। कंपनी ने डेटा प्राइवेसी उल्लंघन के मामले में सेटलमेंट के लिए 2 अरब डॉलर (13,800 करोड़ रुपए) अलग रखे थे, इसलिए प्रॉफिट कम हो गया। जनवरी-मार्च तिमाही में भी ऐसा ही हुआ था। उस दौरान कंपनी ने कानूनी खर्च के लिए 3 अरब डॉलर की राशि अलग रखी थी। फेसबुक ने बुधवार को तिमाही नतीजे घोषित किए।

एडवरटाइजिंग रेवेन्यू में मोबाइल सेगमेंट की 94% हिस्सेदारी

  1. फेसबुक का रेवेन्यू बढ़कर 16.9 अरब डॉलर (1.17 लाख करोड़ रुपए) हो गया है। यह पिछले साल की जून तिमाही के मुकाबले 28% ज्यादा है। एडवरटाइजिंग रेवेन्यू में मोबाइल सेगमेंट की 94% हिस्सेदारी है। पिछले साल अप्रैल-जून में तिमाही में 91% थी।
  2. अप्रैल-जून 2018अप्रैल-जून 2019बढ़ोतरी
    डेली एक्टिव यूजर147.1 करोड़158.7 करोड़8%
    मंथली एक्टिव यूजर223.4 करोड़241.4 करोड़8%
    प्रति यूजर एवरेज रेवेन्यू7.05 डॉलर5.97 डॉलर18%
  3. कंपनी के मुताबिक फेसबुक, इंस्टाग्राम और वॉट्सऐप (फेसबुक फैमिली) के प्रतिदिन यूजर की कुल संख्या 210 करोड़ हो गई है। 270 करोड़ लोग हर महीने कम से कम एक सर्विस का इस्तेमाल कर रहे हैं।
  4. निजता के उल्लंघन मामले में 5 अरब डॉलर का जुर्माना लगा

    निजता के उल्लंघन के मामले में अमेरिकी फेडरल ट्रेड कमीशन (एफटीसी) से सेटलमेंट के तहत फेसबुक को 5 अरब डॉलर (34 हजार 500 करोड़ रुपए) चुकाने पड़ेंगे। फेसबुक को पहले से ही इतने जुर्माने की आशंका थी। इसलिए उसने बीती दो तिमाही में 5 अरब डॉलर की राशि अलग रखी थी। मार्च 2018 में फेसबुक के डेटा लीक का सबसे बड़ा मामला सामने आया था। एफटीसी ने फेसबुक को यूजर्स के डेटा की सुरक्षा में चूक का दोषी मानते हुए बुधवार को जुर्माने का ऐलान किया।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments