Sunday, September 19, 2021
Homeउत्तर-प्रदेशशिल्पा शेट्‌टी और उनकी मां के खिलाफ धोखाधड़ी की FIR दर्ज कराई

शिल्पा शेट्‌टी और उनकी मां के खिलाफ धोखाधड़ी की FIR दर्ज कराई

लखनऊ की बिजनेसमैन ज्योत्सना चौहान ने एक्ट्रेस शिल्पा शेट्‌टी और उनकी मां सुनंदा के खिलाफ धोखाधड़ी की FIR दर्ज कराई थी। ज्योत्सना ने दैनिक भास्कर से बातचीत में अपने साथ हुई ठगी की पूरी जानकारी देने का दावा किया। उन्होंने बताया कि कैसे शिल्पा शेट्‌टी और उनकी मां की कंपनी ने फ्रॉड किया। ज्योत्सना ने बताया कि शिल्पा की कंपनी में 1.36 करोड़ रुपए का निवेश करवाकर लखनऊ में वेलनेस सेंटर खुलवाया। इसके बाद शिल्पा के करीबियों ने सेंटर पर खुद कब्जा कर लिया। ज्योत्सना ने बताया कि निवेश करने से पहले उन्हें शिल्पा शेट्‌टी का वीडियो दिखाकर कहा गया था कि हर महीने 5 लाख रुपए की कमाई होगी।

2019 में शिल्पा के करीबियों ने दिया झांसा

ज्योत्सना ने बताया कि जनवरी 2019 में उनकी मुलाकात शिल्पा शेट्टी के करीबी और उनकी अयोसिस कंपनी के निदेशक किरण बाबा से हुई। किरण ने उन्हें अयोसिस के कई सेंटर्स के प्रजेंटेशन दिखाए। साथ ही बताया कि कंपनी की फ्रेंचाइजी लेने वाले हर महीने 5 लाख रुपए तक कमा रहे हैं।

किरण के साथ विनय भसीन, अनामिका चतुर्वेदी, ईशरफील धरमजवाला, आशा और पूनम झा भी इसमें शामिल थीं। इन लोगों ने बताया कि कंपनी की फ्रेंचाइजी लेकर वेलनेस सेंटर खोलने में कुल 85 लाख रुपए का निवेश होगा और सेंटर का उद्घाटन करने खुद शिल्पा आएंगी।

ज्योत्सना ने बताया कि इन लोगों की बातों पर भरोसा कर उन्होंने अप्रैल 2019 में लखनऊ के विभूतिखंड स्थित रोहतास प्रेसिडेंशियल आर्केड में 1300 वर्ग फीट की दुकान किराए पर ली। उसमें सेंटर की शुरुआत कर दी। जब ज्योत्सना ने किरण बाबा और उनके सहयोगियों से शिल्पा की कंपनी के साथ एग्रीमेंट करवाने की बात कही तो वे लोग टालमटोल करने लगे।

ज्योत्सना का कहना है कि आरोपियों ने इनॉग्रेशन के लिए शिल्पा को बुलाने के नाम पर भी 11 लाख रुपए की डिमांड कर दी।
ज्योत्सना का कहना है कि आरोपियों ने इनॉग्रेशन के लिए शिल्पा को बुलाने के नाम पर भी 11 लाख रुपए की डिमांड कर दी।

4 गुना मंहगे रेट पर समान बेचकर ठगे लाखों रुपए

ज्योत्सना ने बताया कि सेंटर खुलने के बाद आरोपियों ने टॉवेल से लेकर वॉलपेपर तक अपनी मर्जी के लगवाए। इसके बाद कॉस्मेटिक से लेकर हर समान मुंबई से भेजने लगे। जो प्रोडक्ट मार्केट में 5 हजार का था उसका 15 हजार तक बिल भेजा जाता था। कुछ दिनों बाद कंपनी की तरफ से खुद के कर्मचारी लगाकर सेंटर पर कब्जा कर लिया गया।

FIR होते ही शिल्पा ने किरण को बेच दिए शेयर

ज्योत्सना के मुताबिक, सेंटर पर किरण बाबा का कब्जा होने के बाद उन्हें खुद को ठगे जाने का अहसास हुआ। तब तक उनका 1.36 करोड़ का निवेश हो चुका था। पूंजी डूबते देख उन्होंने विभूतिखंड थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई। इसकी जानकारी होते ही शिल्पा ने एक बयान जारी कर कहा कि उन्होंने अयोसिस कंपनी के अपने शेयर किरण बाबा को बेच दिए हैं। अब उनका इस कंपनी से कोई लेना-देना नहीं है।

घर गिरवी रखकर लिया लोन, बचत की पाई-पाई लगाई

ज्योत्सना एयरटेल कंपनी में जॉब करती थीं। उनके पति आनंद कुमार राणा कोर्ट में जॉब करते हैं। शिल्पा की कंपनी में इन्वेस्ट कर अच्छी इनकम के लालच में दोनों ने अपनी बचत की जमा पूंजी लगा दी। रुपए कम पड़े तो आशियाना स्थित मकान गिरवी रखकर स्टेट बैंक से 75 लाख रुपए लोन भी लिया। लेकिन सेंटर बंद होने के बाद उनकी पूरी पूंजी डूब गई और लोन का ब्याज हर महीने बढ़ता जा रहा है।

पुलिस की जांच में साबित हो रहा ठगी का आरोप

विभूतिखंड पुलिस ने 19 जून 2020 को इस मामले में FIR दर्ज की थी। हालांकि, लंबे समय तक कोई कार्रवाई नहीं की। इसलिए जांच चिनहट पुलिस को ट्रांसफर कर दी गई। इस केस की पड़ताल कर रहे सब इंस्पेक्टर अजय शुक्ला ने बताया कि अब तक की जांच में धोखाधड़ी का आरोप साबित हो रहा है। ज्योत्सना के साथ करार के समय शिल्पा शेट्टी अयोसिस कंपनी की चेयरपर्सन और उनकी मां सुनंदा डायरेक्टर थीं। इनके बयान लेने की तैयारी चल रही है। दोनों के बयान लेने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments