Friday, September 24, 2021
Homeवर्ल्ड कप 2019पहला सेमीफाइनल: न्यूजीलैंड का पहला विकेट गिरा, बुमराह ने गुप्टिल को आउट...

पहला सेमीफाइनल: न्यूजीलैंड का पहला विकेट गिरा, बुमराह ने गुप्टिल को आउट किया

  • न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया, साउदी की जगह फर्गुसन को टीम में लिया
  • जडेजा-चहल भारतीय टीम में, कुलदीप-शमी को जगह नहीं मिली

खेल डेस्क.(रविकायस्थ) वर्ल्ड कप के पहले सेमीफाइनल में मंगलवार को मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड स्टेडियम में न्यूजीलैंड ने भारत के खिलाफ टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया। न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन और हेनरी निकोलस क्रीज पर हैं। जसप्रीत बुमराह ने चौथे ओवर की तीसरी गेंद पर मार्टिन गुप्टिल को पवेलियन भेज दिया। गुप्टिल सिर्फ एक ही रन बना सके। विराट कोहली ने उनका कैच लिया।

इससे पहले भारत ने पहली ही गेंद पर रिव्यू गंवा दिया। भुवनेश्वर कुमार ने गुप्टिल के खिलाफ एलबीडब्ल्यू की अपील की, लेकिन गेंद लेग स्टंप से बाहर जा रही थी। थर्ड अंपायर ने गुप्टिल को नॉटआउट करार दिया। शुरुआती दो ओवर में न्यूजीलैंड की टीम खाता भी नहीं खोल सकी।

कुलदीप की जगह चहल टीम में

भारत ने टीम में एक बदलाव करते हुए कुलदीप यादव की जगह युजवेंद्र चहल को टीम में लिया। भारतीय टीम में मोहम्मद शमी को भी जगह नहीं मिली। न्यूजीलैंड ने भी टीम में एक बदलाव किया। टिम साउदी की जगह लॉकी फर्गुसन को टीम में शामिल किया।

दोनों टीमें

भारत : लोकेश राहुल, रोहित शर्मा, विराट कोहली (कप्तान), ऋषभ पंत, महेंद्र सिंह धोनी (विकेटकीपर), दिनेश कार्तिक, हार्दिक पंड्या, रवींद्र जडेजा, भुवनेश्वर कुमार, युजवेंद्र चहल, जसप्रीत बुमराह।

न्यूजीलैंड : मार्टिन गुप्टिल, हेनरी निकोलस, केन विलियम्सन (कप्तान), रॉस टेलर, टॉम लाथम (विकेटकीपर), जेम्स नीशम, कॉलिन डी ग्रैंडहोम, मिशेल सैंटनर, लॉकी फर्गुसन, मैट हेनरी, ट्रेंट बोल्ट।

ओल्ड ट्रैफर्ड के ऊपर से मैच के दौरान कोई विमान नहीं उड़ेगा

वर्ल्ड कप में सुरक्षा में चूक की दो घटनाओं के बाद इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड को पत्र लिखकर कहा कि ओल्ड ट्रैफर्ड के ऊपर से मैच के दौरान कोई विमान नहीं उड़ेगा। पूरे मैच के दौरान यह नो फ्लाई जोन रहेगा।

सुरक्षा का क्या मामला है?

शनिवार को भारत और श्रीलंका मैच के दौरान मैदान के ऊपर प्लेन से बांधकर भारत विरोधी बैनर लहराए गए। इस पर अब भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) से शिकायत की थी। इससे पहले 29 जून को अफगानिस्तान और पाकिस्तान के मुकाबले के बीच मैदान के ऊपर से गुजरे एक निजी विमान से बैनर दिखाया गया, जिसमें जस्टिस फॉर बलूचिस्तान का मैसेज लिखा था। इससे नाराज पाक फैन्स ने अफगान दर्शकों से मारपीट भी की थी।

टीम इंडिया की नजर चौथी बार फाइनल में पहुंचने पर

टीम इंडिया इस मैच को जीतकर चौथी बार फाइनल में जगह बनाने की कोशिश करेगी। दूसरी ओर न्यूजीलैंड की टीम लगातार दूसरे वर्ल्ड कप में फाइनल खेलना चाहेगी। पिछली बार ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खिताबी मुकाबले में कीवी टीम को हार मिली थी।

मैनचेस्टर में दोनों टीमें 44 साल बाद आमने-सामने

न्यूजीलैंड के लिए भारत को हराना आसान नहीं होगा। टीम इंडिया ने उसके खिलाफ पिछले 4 सालों में 69% वनडे जीते। दोनों टीमों के बीच 2015 वर्ल्ड कप के बाद से 13 मैच हुए। इनमें टीम इंडिया 9 में जीती। न्यूजीलैंड को 4 में ही सफलता मिली। मैनचेस्टर में दोनों टीमें 44 साल बाद आमने-सामने होंगी। पिछली बार 1975 वर्ल्ड कप में न्यूजीलैंड ने भारत को 4 विकेट से हराया था। इसके बाद इंग्लैंड के मैदान पर दोनों टीमों के बीच दो और वनडे खेले गए। दोनों मुकाबलों में न्यूजीलैंड की टीम ही सफल रही। 1999 में नॉटिंघम में भारत 5 विकेट और 1979 में लीड्स के हेडिंग्ले में 8 विकेट से हारा था।

भारत अब तक सिर्फ 3 सेमीफाइनल हारा, जबकि न्यूजीलैंड ने 6 गंवाए
भारतीय टीम का वर्ल्ड कप इतिहास में यह 7वां सेमीफाइनल होगा। वह अब तक 3 बार जीती और 3 बार हारी। पिछले वर्ल्ड कप में उसे ऑस्ट्रेलिया ने सेमीफाइनल में हराकर खिताब जीतने से रोक दिया था। टीम इंडिया न्यूजीलैंड के खिलाफ पहली बार सेमीफाइनल खेलेगी। दूसरी ओर न्यूजीलैंड की टीम रिकॉर्ड 8वीं बार अंतिम-4 में खेल रही है, लेकिन यहां पर उसका रिकॉर्ड खराब है। उसे सिर्फ एक बार अब तक जीत मिली। 6 सेमीफाइनल में उसे हार का सामना करना पड़ा है।

भारत वर्ल्ड कप में 20 साल से न्यूजीलैंड के खिलाफ नहीं हारा

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments