Wednesday, September 22, 2021
Homeदेशबंगाल में कोरोना से एक दिन में पांच चिकित्सकों की मौत, अब...

बंगाल में कोरोना से एक दिन में पांच चिकित्सकों की मौत, अब तक 127 चिकित्सकों की मृत्यु

बंगाल में कोरोना से एक दिन में पांच चिकित्सकों की मौत हो गई। सूबे में अब तक कोरोना की चपेट में आकर 127 चिकित्सकों की मौत हो चुकी है। चिकित्सकों की मौत पर वेस्ट बंगाल डॉक्टर्स फोरम ने गहरा शोक जताया है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक कोलकाता के ढाकुरिया इलाके में स्थित आमरी अस्पताल में पैथोलॉजिस्ट सुबीर दत्ता (85) की कोरोना से मौत हो गई। तालतल्ला के साइंटिफिक क्लिनिकल रिसर्च लाइब्रेरी के अधिकारी रहे सुबीर दत्ता 1990 से 1995 तक कलकत्ता विश्वविद्यालय के मेडिकल विभाग के डीन पद पर थे। गत 25 अप्रैल को सांस में तकलीफ की समस्या लेकर उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था और उसी दिन से वे वेंटीलेटर पर थे।

बंगाल में कोरोना से एक दिन में पांच चिकित्सकों की मौत अब तक सूबे में कोरोना की चपेट में आकर अब तक 127 चिकित्सकों की हो चुकी है मौत। डॉक्टर्स फोरम के संयोजक ने कहा कि चिकित्सक व स्वास्थ्य कर्मी जान जोखिम में डालकर अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन कर रहे

दूसरी तरफ बारासात के बाद वरिष्ठ चिकित्सक उत्पल सेनगुप्ता की कोलकाता के अपोलो अस्पताल में कोरोना से मौत हो गई। नीलरतन सरकार मेडिकल कॉलेज अस्पताल के पूर्व चिकित्सा सतीश घाटा की भी कोरोना ने जान ले ली। मेदिनीपुर मेडिकल कॉलेज के पूर्व चिकित्सक संदीपन मंडल ने भी कोरोना की चपेट में आकर दम तोड़ दिया। वर्तमान में वे मुर्शिदाबाद मेडिकल कॉलेज के एसएनसीयू में मेडिकल ऑफिसर के पद पर थे। ईईडीएफ अस्पताल मैं कोरोना संक्रमित होकर स्त्री रोग विशेषज्ञ दिलिप चक्रवर्ती की मौत हो गई।

डॉक्टर्स फोरम के संयोजक डॉक्टर पुण्यब्रत गुन ने कहा कि कोरोना महामारी के इस कठिन दौर में भी चिकित्सक व स्वास्थ्य कर्मी अपनी जान जोखिम में डालकर अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन कर रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि कोरोना संक्रमित होने पर डॉक्टरों व स्वास्थ्य कर्मियों के बेहतर इलाज की व्यवस्था करने की जरूरत है। उनके परिवारों की जिम्मेदारी भी राज्य सरकार को लेनी चाहिए।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments