Thursday, September 16, 2021
Homeबिहारपहली बार ग्रीन बजट : जल-जीवन और हरियाली पर रहेगा फोकस, मौसम...

पहली बार ग्रीन बजट : जल-जीवन और हरियाली पर रहेगा फोकस, मौसम अनुकूल कृषि योजना पूरे राज्य में होगी लागू

पटना. वित्त मंत्री सुशील मोदी आज विधानसभा में बजट पेश करेंगे। बजट 2020-21 में कृषि पर विशेष फोकस रहेगा। मौसम अनुकूल कृषि को पूरे राज्य में लागू करने की योजना है। अभी 190 पंचायतों को शामिल किया जाएगा। इसमें हर जिले से कम से कम एक पंचायत शामिल होगी। अभी राज्य के 8 जिलों- गया, नवादा, नालंदा, भागलपुर, बांका, मुंगेर, खगड़िया और मधुबनी के 40 गांवों में मौसम अनुकूल फसल चक्र पर काम हो रहा है। राज्य में पहली बार ग्रीन बजट पेश किया जाएगा। बजट में मुख्य फोकस जल-जीवन-हरियाली पर रहेगा। सभी विभाग जलवायु एवं पर्यावरण संरक्षण को ध्यान में रखकर योजनाएं बनाएंगे।

वर्ष 2020-21 का बजट 2.16 लाख करोड़ के करीब, शिक्षा का आवंटन सबसे ज्यादा
जल जीवन हरियाली योजना के तहत आहर,पाइन, तालाब और कुआं की सफाई के लिए अतिरिक्त राशि का प्रावधान किया जाएगा। सीएनजी को बढ़ावा देने, बायो मेडिकल वेस्ट के निबटारे और वन विभाग की पौधरोपण जैसी योजनाओं पर खर्च होने वाली राशि को बजट में शामिल किया जाएगा। ‘ग्रीन बजट’ में करीब 12 से 14 हजार करोड़ का प्रावधान हो सकता है।

स्कीम मद में 1.12 लाख करोड़ रुपए का हो सकता है आवंटन
वित्तीय वर्ष 2020-21 का बजट 2.16 लाख करोड़ होने की संभावना है। स्कीम मद में वर्ष 2019-20 के एक लाख करोड़ की तुलना में यह 1.12 लाख करोड़ के करीब हो सकता है। शिक्षा का बजट 34798 हजार करोड़ से बढ़कर 38 हजार करोड़ हो सकता है। ग्रामीण विकास का 17 हजार करोड़ और ग्रामीण कार्य का 11 हजार करोड़ के करीब संभव है।

बजट में शामिल हो सकती हैं ये स्कीम

  • आंगनबाड़ी केंद्रों पर प्रति लाभार्थी 3 रु. अतिरिक्त खर्च किए जाएंगे।
  • पिछड़ा वर्ग के पीटी पास को मेन्स की तैयारी के लिए एक मुश्त राशि।
  • पंचायती राज विभाग 90 हजार कुओं का जीर्णोद्धार करेगा।
  • 19 इंजीनियरिंग, 5 पोलिटेक्निक कॉलेजों के लिए बनेगा भवन।
  • 2021 में पृथ्वी दिवस के दिन लगाएं जाएंगे 2.5 करोड़ पौधे।
  • राज्य के मेजर डिस्ट्रिक्ट रोड की चौड़ाई सिंगल से इंटरमीडिएट होगी।
  • बिहटा का नाइलेट केन्द्र एडवांस ट्रेनिंग सेंटर के तौर पर विकसित होगा। बक्सर और मुजफ्फरपुर में भी केन्द्र खोले जाएंगे।
  • लकड़ी आधारित उद्योग को बढ़ावा देने की नीति बनाएगी। इसी सत्र में बिल आएगा। पापुलर की खेती से किसानों की आय दोगुनी होगी।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments