Saturday, September 18, 2021
Homeछत्तीसगढ़छत्तीसगढ़ : वाहन चालकों की मदद के लिए सीआरपीएफ जवानों ने...

छत्तीसगढ़ : वाहन चालकों की मदद के लिए सीआरपीएफ जवानों ने उफनते नाले के पुल पर बनाई मानव श्रृंखला

सुकमा. बस्तर के सुकमा में भारी बारिश के चलते नदी और नाले उफान पर हैं। गांव टापू में तब्दील हो गए हैं। ऐसे मे एक ओर जहां जवान अपनी जान जोखिम में डाल लोगों को बचाने में लगे हैं, वहीं दूसरी ओर नक्सली अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे। उन्होंने एक बार फिर बुधवार को जन अदालत लगाकर एक ग्रामीण की हत्या कर दी। नक्सलियों ने ग्रामीण का कुछ दिन पहले ही अपहरण किया था।

दरअसल, इन दिनों पूरा बस्तर बारिश के चलते बाढ़ की चपेट में है। पिछले पांच दिनों से लगातार हो रही भारी बारिश के कारण नदियां खतरे के निशान को पार कर गई हैं। नाले भी उफान पर हैं। पुलिया टूट गई हैं, तो कई पुल डूब गए हैं। ओडिशा से सड़क संपर्क मार्ग टूट चुका है। ऐसे में जवान अपनी जान जोखिम में डालकर लोगों को बचाने और राहत कार्य में जुटे हुए हैं।

ऐसे ही एक तेज बहाव वाले नाले के ऊपर बना पुल पूरी तरह से पानी में डूब चुका है। इस पर वाहन चालकों की मदद के लिए सीआरपीएफ जवानों ने उफनते नाले के पुल पर मानव श्रृंखला बना रखी है। जवान पुल के दोनों ओर रस्सी लेकर खड़े हुए हैं और आने-जाने वाले वाहनों को रास्ता दिखा रहे हैं। नाले के रूप को देखते हुए लग रहा है कि जवानों की एक गलती भी उन पर भारी पड़ सकती है।

दूसरी ओर जगरगुंडा इलाके से करीब एक सप्ताह पहले अपहरण किए गए ग्रामीण की नक्सलियों ने बुधवार को हत्या कर दी। ग्रामीण का शव जगरगुंडा मार्ग चिन्तलनार के पास फेंककर नक्सली फरार हो गए। ग्रामीण का नाम वंजाम हिड़मा है और मर्कागुड़ा का रहने वाला था। अपहरा की शिकायत परिजनों ने पुलिस में की थी। आशंका है कि मुखबिरी के शक में ग्रामीण की हत्या की गई है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments