Tuesday, September 28, 2021
Homeमहाराष्ट्रमहाराष्ट्र : पूर्व मंत्री पंकजा मुंडे ने दिए भाजपा छोड़ने के संकेत,...

महाराष्ट्र : पूर्व मंत्री पंकजा मुंडे ने दिए भाजपा छोड़ने के संकेत, फेसबुक पर लिखा- सोचने के लिए वक्त चाहिए

मुंबई. महाराष्ट्र में भाजपा नेता और पूर्व मंत्री पंकजा मुंडे ने पार्टी छोड़ने के संकेत दिए हैं। उन्होंने फेसबुक में एक पोस्ट में लिखा है, “अब सोचने और निर्णय लेने की आवश्यकता है कि आगे क्या किया जाए? उन्होंने 12 दिसंबर को समर्थकों को बीड के गोपीनाथगढ़ पहुंचने की अपील की है। 12 दिसंबर को पंकजा के पिता दिवंगत गोपनाथ मुंडे का जन्मदिवस है। पंकजा मुंडे परली विधानसभा सीट से अपने चचेरे भाई और राकांपा नेता धनंजय मुंडे से चुनाव हारी हैं।

पंकजा ने फेसबुक में एक भावुक पोस्ट भी लिखी। मराठी में लिखी इस पोस्ट में पंकजा ने कहा- “राज्य में बदले राजनीतिक परिदृश्य को देखते हुए यह सोचने और निर्णय लेने की आवश्यकता है कि आगे क्या किया जाए। मुझे स्वयं से बात करने के लिए 8 से 10 दिन की आवश्यकता है।

उन्होंने आगे लिखा-“मौजूदा राजनीतिक बदलावों की पृष्ठभूमि में भावी यात्रा पर फैसला किए जाने की आवश्यकता है। अब क्या करना है? कौन सा मार्ग चुनना है? हम लोगों को क्या दे सकते हैं? हमारी ताकत क्या है? लोगों की अपेक्षाएं क्या हैं? मैं इन सभी पहलुओं पर विचार करूंगी और आपके सामने 12 दिसंबर को आऊंगी।”

पंकजा ने भाजपा के शीर्ष नेतृत्व से की शिकायत 
पार्टी सूत्रों के मुताबिक, पंकजा ने पार्टी के शीर्ष नेताओं से शिकायत की है कि वे चुनाव हारी नहीं हैं। उन्हें चुनाव हरवाया गया है। पंकजा ने ऐसी कई बातें वरिष्ठ नेताओं को सबूत के साथ बताई हैं कि किस तरह उन्हें चुनाव हरवाने के लिए काम किया गया। सूत्र यह भी दावा करते हैं कि पंकजा की नाराजगी पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस से हैं।

भाजपा युवा मोर्चा से राजनीति शुरू की थी 
पंकजा महाराष्ट्र के पूर्व उपमुख्यमंत्री और भाजपा के दिवंगत नेता गोपीनाथ मुंडे के बेटी हैं। पंकजा साल 2009 और 2014 में बीड जिले की परली विधानसभा सीट से चुनाव जीती थीं। 206 करोड़ की चिक्की घोटाले में उनका नाम आया था। पंकजा भाजपा के कद्दावर नेता दिवंगत नेता प्रमोद महाजन की भांजी हैं। पंकजा ने भाजपा युवा मोर्चा से राजनीति शुरू की थी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments