Sunday, September 19, 2021
Homeराजस्थानराजस्थान : लॉकडाउन फेज-4 का चौथा दिन : 83 नए पॉजिटिव केस...

राजस्थान : लॉकडाउन फेज-4 का चौथा दिन : 83 नए पॉजिटिव केस मिले, 3 की मौत हुई; 2 महीने बाद पुष्कर के घाटों पर लौटी रौनक

जयपुर. राजस्थान में गुरुवार को कोरोना पॉजिटिव के 83 नए केस सामने आए। इनमें डूंगरपुर में 28, उदयपर में 10, नागौर और जयपुर में 8-8, राजसमंद और बीकानेर में 6-6, अलवर में 4, कोटा, भीलवाड़ा, अजमेर, झुंझुनू और बाड़मेर में 2-2, झालावाड और जैसलमेर में 1-1 संक्रमित मिला। वहीं, यूपी से आया एक व्यक्ति भी पॉजिटिव पाया गया। इसके साथ कुल संक्रमितों की संख्या 6098 पहुंच गई। भरतपुर, जयपुर और सीकर में आज 1-1 संक्रमित की मौत भी हुई।

लॉकडाउन के कारण बीते 2 माह से सूने पड़े पुष्कर सरोवर के घाटों पर आज से रौनक लौट आई। गुरुवार को 100 से अधिक श्रद्धालु सरोवर में स्नान और पूजा करने पहुंचे। इनमें अधिकतर लोग अपने दिवंगत परिजन की अस्थियां हरिद्वार में विसर्जित कर गंगाजलि की पूजा करने आए। इसके अलावा कुछ लोग सरोवर में भी अस्थियां विसर्जन करने पहुंचे।

प्रवासियों को क्वारैंटाइन जरूर करें: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने निर्देश दिए कि प्रदेश के जिन जिलों में बाहर से आने वाले प्रवासियों की संख्या अधिक है, वहां क्वारैंटाइन व्यवस्थाएं पुख्ता रखी जाएं। बाहर से आए लोगों को अनिवार्य रूप से क्वारैंटाइन किया जाए। होम क्वारैंटाइन के नियमों का उल्लंघन करने वालों को संस्थागत क्वारैंटाइन में भेज दिया जाए।

प्रवासी मजदूरों को निशुल्क गेहूं दिया जाएगा

खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री रमेश चंद मीना ने बताया कि लॉकडाउन के कारण अन्य राज्यों से लौट रहे मजदूरों को मई और जून में प्रति व्यक्ति 5 किग्रा गेहूं निशुल्क दिया जाएगा। यह लाभ ऐसे प्रवासी मजदूर को दिया जाएगा जो राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा में चयनित नहीं हैं। इनके अलावा दूसरे राज्यों के मजदूर जो बेरोजगार हो गए हैं और अपने राज्यों में नहीं गए, उन्हें भी यह लाभ मिलेगा।

भीलवाड़ा में पिता के साथ 4 महीने की बेटी भी संक्रमित

जिले में एक पिता और उसकी चार महीने की बेटी की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इतनी छोटी बच्चे के संक्रमित होने का जिले में यह पहला मामला है। इसी के साथ जिले में पॉजिटिव मरीजों की संख्या 84 हो गई है।

कुवैत में मौत, बांसवाड़ा में पुतले का अंतिम संस्कार किया गया

बांसवाड़ा में घाटोल कस्बे के नरवाली गांव के 45 साल के व्यक्ति की कोरोना से कुवैत के अस्पताल में 19 मई को मौत हो गई। उसके शव को कुवैत में ही दफनाया गया। इधर, परिजन को सूचना मिली तो उन्होंने बुधवार को एक मृतक का प्रतीकात्मक पुतला बनाकर रीति-रिवाजों के साथ अंतिम संस्कार किया।

पाली: कोरोना से मरने वालों की अस्थियां प्रदूषित बांडी नदी में दफनाईं

पाली में कोरोना संक्रमिताें की मौत के बाद उनकी देह की राख और अस्थियों को गंदगी मेंं दफनाया जा रहा है। शहर में अब तक 5 संक्रमितों की मौत हुई है। इनमें से एक का अंतिम संस्कार जोधपुर में और दो का पाली के हिंदू सेवा मंडल में किया गया। बाकी दो मरीजों की मौत इस स्टिंग के बाद हुई। स्टिंग में पता चला कि मृतकों की अस्थियों को शहर की प्रदूषित बांडी नदी में जेसीबी से गड्ढा खुदवाकर गंदगी में ही दफनाया जा रहा है।

33 में से 32 जिलों में संक्रमण पहुंचा

  • प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 1675 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 1175 (इनमें 47 ईरान से आए), उदयपुर में 430, कोटा में 339, अजमेर में 268, डूंगरपुर में 261, पाली में 217, चित्तौड़गढ़ में 167, टोंक में 156, नागौर में 221, भरतपुर में 129, जालौर में 108, भीलवाड़ा में 84, जैसलमेर में 74 (इनमें 14 ईरान से आए), बांसवाड़ा में 75, बीकानेर में 71, झुंझुनूं में 71, झालावाड़ में 52, दौसा में 39, धौलपुर में 28, अलवर में 40, चूरू में 52, राजसमंद में 67, सिरोही में 70, हनुमानगढ़ में 14, सीकर में 64, सवाई माधोपुर में 17, बाड़मेर में 52, करौली में 10, प्रतापगढ़ में 7, बारां में 5, श्रीगंगानगर में एक संक्रमित मिला। जोधपुर में बीएसएफ के 50 जवान भी पॉजिटिव मिल चुके हैं। दूसरे राज्यों से आए 9 लोग पॉजिटिव मिले।
  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 150 लोगों की मौत हुई है। इनमें जयपुर में 78 (जिसमें चार यूपी से), जोधपुर में 17, कोटा में 13, भरतपुर और अजमेर में 5, सीकर, पाली और नागौर में 4-4, बीकानेर में 3, जालौर, करौली, अलवर, भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़ में 2-2, उदयपुर, बांसवाड़ा, चूरू, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है। दूसरे राज्य से आए एक व्यक्ति की भी मौत हुई।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments