Wednesday, September 22, 2021
Homeराज्यगुजरातगुजरात : हांगकांग-शो स्थगित, सूरत में तैयार हुई करोड़ों की गोल्ड-डायमंड ज्वेलरी...

गुजरात : हांगकांग-शो स्थगित, सूरत में तैयार हुई करोड़ों की गोल्ड-डायमंड ज्वेलरी का एक्सपोर्ट अटका

सूरत. कोरोनावायरस का कहर चीन के वुहान से लेकर अब हांगकांग तक फैल गया है। इस कारण मार्च 2020 में आयेाजित हांगकांग जेम एंड ज्वेलरी एक्जीविजन को स्थगित कर दिया गया है। इसलिए इस शो के लिए तैयार की गई स्पेशल ज्वेलरी और गोल्ड-डायमंड की वस्तुओं का एक्सपोर्ट अटक गया है।

5 किलो का सोने का सिक्का
इस शो के लिए सूरत में विशेष रूप से 24 कैरेट गोल्ड का 5 किलो का सोने का सिक्का तैयार किया गया है। इसके अलावा एक फुटबॉल भी तैयार किया गया है, जिसकी कीमत 28 लाख रुपए है। सूरत के ज्वेलरी मेन्युफैक्चर ने बताया कि राजकोट के बाद अब सूरत भी डायमंड-गोल्ड ज्वेलरी मेन्युफैक्चरिंग का हब बन रहा है। मार्च में आयोजित होने वाले हांगकांग शो में जाने वाले सूरत के एक्जिबिटर्स द्वारा सोने का 5 किलो वजन का सिक्का, 7000-8000 पीस डायमंड का फुटबॉल भी तैयार किया गया है। कोरानावायरस के कारण अब यह एक्जीविजन मई में आयोजित किया जा रहा है।
5 किलो वज का सोने का सिक्का
सूरत में एक से 2 किलो के सोने-चांदी के सिक्के तैयार किए जाते हैं। 5 किलो का गोल्ड का 24 करोड़ का सिक्का पहली बार तैयार किया गया है। इसकी कीमत 2 करोड़ 10 लाख रुपए है। इसके अलावा 7 किलो का डायमंड-गोल्ड का फुटबॉल, 7000-8000 ब्लेक एंड व्हाइट डायमंड के कॉम्बिनेशन का 7 किलो का डायमंड गोल्ड के फुटबॉल के 5 पीस तैयार किए गए हैं। एक फुटबॉल की कीमत 28 लाख रुपए होती है।

बेट-बॉल
एक किलो गोल्ड का और 24 कैरेट का तथा 2 करोड़ की कीमत के 45 बेट-बॉल का ऑर्डर मिला है। शो स्थगित होने से केवल 8 पीस ही एक्सपोर्ट किए गए हैं।

चश्मा
4.5 से 5 कैरेट के 95 पीस के डायमंड चश्मे, जिसमें 3 डी से 40 ग्राम गोल्ड का इस्तेमाल किया गया है। इसकी कीमत बहरहाल करीब 4 लाख रुपए आंकी गई है। ऐसे 170 पीस इस एक्जीविजन के लिए तैयार किए गए हैं।

9 हजार करोड़ का नुकसान
चीन में फैले कोरोनावायरस का असर सूरत-मुम्बई का हीरा बाजार और स्टोन के व्यापार पर भी पड़ा है। मार्च में हांगकांग में होने वाला जेम एंड ज्वेलरी शो अब मई में होगा। पहले इसे 10 दिनों का होना था, अब इसे केवल 4 दिन का कर दिया गया है। यानी यह शो 18 से 21 मई तक ही होगा। इसमें सूरत-मुम्बई के 500 एक्जिविटर्स, 10 हजार बिजिटर्स समेत स्थानीय नागरिकों को इन दो महीने के दौरान मिलने वाले 9000 करोड़ का व्यापार प्रभावित हुआ है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments