Wednesday, September 22, 2021
Homeहेल्थहरा धनिया सिर्फ सब्जी को ही नहीं, शरीर भी संवार देता है,...

हरा धनिया सिर्फ सब्जी को ही नहीं, शरीर भी संवार देता है, ऐसे हैं इसके औषधीय गुण

जायकेदार खाना यदि खूबसूरती के साथ परोसा जाए तो और भी ज्यादा भूख बढ़ा देता है और खाने को विशेषकर सब्जियों को सजाने में हर कोई ऊपर से हरा धनिया जरूर डालता है। लेकिन ध्यान रहें कि आप हरे धनिया को खाने में सिर्फ सजावट के लिए ही उपयोग न करें, क्योंकि साधारण सी दिखने वाली ये हरी पत्तियों सेहत को कई फायदे पहुंचाती हैं। हरा धनिया न सिर्फ एंटी ऑक्सीडेंट से भरपूर है बल्कि इसमें ड्यूरेटिक इफेक्ट और एंटी इन्फ्लेमेटरी गुणों के साथ-साथ कई पोषक तत्व मौजूद होते हैं। हरा धनिया सब्जी का स्वाद बढ़ाने के साथ शरीर की दुर्गंध भी दूर करता है। तो आइए जानते हैं हरा धनिया सेहत के लिए कैसे फायदेमंद है –

डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला के अनुसार, धनिए का पूरा पौधा लिपिड का अच्छा स्रोत माना जाता है। इसमें पेट्रोसिलिनिक एसिड और एसेंशियल ऑयल होते हैं। यह तेल जड़ी बूटियों के समान फायदा करता है।

खून का संचार बढ़ाता है हरा धनिया, दिल के रोगियों के लिए उपयोगी
अनियमित भोजन और बाहर का खाना खाने से लोग हार्ट से संबंधित बीमारियों के शिकार हो रहे हैं। यदि नियमित भोजन के साथ अपने डाइट में धनिया पत्ती को शामिल करते हैं तो दिल स्वस्थ रहेगा, क्योंकि शरीर में खून का संचार बेहतर तरीके से होगा और भविष्य में दिल के दौरे जैसी परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ेगा।

बढ़ाता है हिमोग्लोबिन
धनिया में काफी मात्रा में आयरन तत्व पाया जाता है, इसके नियमित सेवन से हमारे शरीर में खून की कमी दूर हो जाती है और यह मस्तिष्क की कार्यक्षमता को बढ़ाने में भी मदद करता है और मस्तिष्क को सक्रिय करने वाले हारमोंस को बढ़ाता है।

डायबिटीज के रोगियों के लिए जरूरी
यदि कोई डायबिटिक हैं तो हरा धनिया जरूर खाना चाहिए, क्योंकि इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट तत्व आपका शुगर लेवल संतुलित करता है। टाइप-2 के डायबिटिक मरीजों के लिए यह काफी लाभदायक होता है।

पेट से संबंधित रोगों को दूर करने में सहायक
बाजार में मिलने वाले जंक फूड और खानपान की लापरवाही के चलते इन दिनों पेट से संबंधित कई परेशानियां रहती हैं और कई लोगों की पाचन शक्ति भी कमजोर होती है। यदि ऐसे लोग धनिया रोज खाते हैं, तो उन्हें सीने में जलन या पेट में दर्द जैसी कोई शिकायत नहीं होंगी।

धनिया बढ़ाएगा आपकी खूबसूरती
चेहरा चमकाना है और यदि आपके फेस पर मुहांसे हो रहे हो तो धनिया को पीसकर कच्चे दूध में मिलाकर इसका लेप लगाने से चेहरा साफ और चमकदार होगा। यदि यह लेप एक हफ्ते तक रोजाना लगाते हैं तो चेहरे में तेज आएगा। एक अध्ययन के अनुसार धनिया में एंटी-ऑक्सीडेंटस गुण अधिक  पाए जाते हैं। इस कारण ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को दूर करने में धनिया महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। ध्यान रहें कि ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस के कारण ही कैंसर, दिल की बीमारी, अर्थराइटिस और अल्जाइमर जैसी गंभीर बीमारियां होती हैं।

अन्य बीमारियों में ऐसे करें उपयोग
इस सभी बीमारियों के अलावा हरा धनिया अतिसार, एलर्जी भी दूर करता है। इसके लिए एक चम्मच धनिया रातभर पानी में भिगोकर रखें और सुबह उबालकर छानकर पी लें
यदि कोई सिरदर्द से परेशान हैं तो कोमल धनिए के पत्ते के रस को माथे पर लगाकर हल्की मालिश कर लें।
धनिए के पत्तों का रस पानी में डालकर आंखें धोने से आंखें साफ होती हैं और कंजेक्टिवाइटिस की समस्या भी दूर हो जाती है।
धनिया के बीज का काढ़ा बनाकर उससे कुल्ला करने पर मुंह के छाले ठीक हो जाते हैं।
दूध के साथ धनिया के बीज का काढ़ा पीने से माहवारी में ज्यादा रक्तस्राव की समस्या भी ठीक होती है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments